Advertisement

bhagalpur

  • Jul 12 2019 11:09AM
Advertisement

दर्दनाक! बेटा-बेटी को ले मां दौड़ी ट्रेन के आगे, मां और बेटे की मौत, जानें पूरा मामला

दर्दनाक! बेटा-बेटी को ले मां दौड़ी ट्रेन के आगे, मां और बेटे की मौत, जानें पूरा मामला

अकबरनगर/शाहकुंड : सास से विवाद होने पर गुरुवार को एक महिला अपने बेटा व बेटी के साथ ट्रेन के आगे कूद गयी. इसमें जहां बेटी ने जबरन हाथ छुड़ा कर अपनी जान बचायी, वहीं ट्रेन से कटकर मां-बेटे की मौत हो गयी. घटना अकबरनगर पश्चिम केबिन समपार फाटक के पास की है.

बांका के अमरपुर थाना क्षेत्र स्थित पहाड़पुर गांव की महिला खुशबू देवी, पुत्र अलोक कुमार की मौत मौके पर हो गयी, जबकि बेटी शिक्षा कुमारी की जान बच गयी. प्रत्यक्षर्शियों ने बताया कि महिला दो बच्चों का हाथ पकड़ कर केबिन समपार फाटक पर खड़ी थी. भागलपुर से गरीब रथ ट्रेन आ रही थी, जिसके कारण फाटक बंद था.

ट्रेन के फाटक के पास आते ही महिला अचानक दोनों बच्चों को लेकर दौड़ गयी. बेटी शिक्षा ने महिला से हाथ खींच लिया, जिससे बेटी का हाथ छूट गया. महिला पुत्र अलोक के साथ ट्रेन की चपेट में आ गयी, जिससे मां-बेटे की मौत हो गयी. मां-बेटे की दर्दनाक मौत के बाद काफी संख्या में स्थानीय लोग जमा हो गये. मौके पर पहुंची रेल पुलिस ने दोनों शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के भागलपुर भेज दिया.

 
शाहकुंड के सातपुर गांव नहीं गयी, कर ली खुदकुशी : पुत्री से पूछताछ के बाद  मृतक महिला की पहचान हो पायी. पुत्री ने बताया कि  बांका जिले के अमरपुर थाना क्षेत्र के पहाड़पुर गांव में उनका घर है. शाहकुंड थाना क्षेत्र के सातपुर गांव में ननिहाल है. घर में सुबह दादी से घरेलू विवाद हुआ.  मां बोली कि  ननिहाल चलो, यहां नहीं रहना है. महिला दोनों बच्चों को लेकर सातपुर गांव नहीं गयी और खुदकुशी कर ली. घटना की जानकारी मिलते ही महिला के मायके से काफी संख्या में लोग अकबरनगर पहुंचे. पुलिस मामले की छानबीन करने में जुटी है.
 
ननिहाल जाने की बात कर बच्चों को ले निकली थी
मृतक महिला की पुत्री ने बताया कि घर में मम्मी और दादी में कई दिन से घरेलू विवाद हो रहा था. गुरुवार को सुुुबह झगड़ा होने के बाद मम्मी ने शाहकुंड केे सातपुर गांव स्थित ननिहाल जाने की बात कह घर से हम दोनों को लेकर निकल गयी. घर से अकबरनगर आने पर बेटी ने मां से पूछा कि अकबरनगर क्यों जा रही हो, तो मां ने बाजार करने की बात कह कर दोनों को लेकर अकबरनगर पहुंच गयी. अकबरनगर में काफी देर तक इधर-उधर घुमने के बाद महिला दोनों बच्चों को लेकर समपार फाटक पर पहुंच गयी. समपार फाटक पर आसपास खड़े लोग कुछ समझ पाते इतने में महिला ट्रेन के आगे दौड़ गयी. पुत्री शिक्षा कुमारी को महिला  नहीं खींच पायी, जिससे वह बच गयी.
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement