bbc news

  • Dec 12 2019 8:59AM
Advertisement

पाकिस्तानः लाहौर के अस्पताल पर वकीलों ने क्यों किया हमला?- पांच बड़ी ख़बरें

पाकिस्तानः लाहौर के अस्पताल पर वकीलों ने क्यों किया हमला?- पांच बड़ी ख़बरें

पाकिस्तान, वकीलों का हमला

Getty Images

पाकिस्तान के लाहौर में डॉक्टरों से बदला लेने के लिए हज़ारों की संख्या में वकीलों ने वहां के एक अस्पताल में घुसकर तोड़फोड़ मचाई. इस हमले में गंभीर रूप से घायल कुछ मरीज़ों की मौत हो गई है.

पाकिस्तान के अख़बार डॉन के मुताबिक़ पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री यास्मीन राशिद ने हताहत मरीज़ों की संख्या तीन बताई है. इस मामले में 40 वकीलों को गिरफ़्तार भी किया गया है.

मानवाधिकार मंत्री शिरीन माज़री ने ट्वीट कर यह जानकारी दी.

बुधवार को लाहौर के पंजाब इंस्टीट्यूट ऑफ़ कार्डियोलॉजी में बड़ी संख्या में वकील घुस गए और वहां तोड़फोड़ मचाई.

वकीलों का कहना था कि उन्होंने दो हफ़्ते पहले एक साथी वकील पर डॉक्टर के किए हमले का बदला लेने के लिए ऐसा किया.

नागरिकता संशोधन विधेयक
RAVI PRAKASH/BBC

असम में विरोध प्रदर्शन

असम में गुवाहाटी समेत वहां के 10 ज़िलों में कर्फ़्यू लगाया गया है. वहाँ नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं.

वहीं समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ असम के दुलियाजन में प्रदर्शनकारियों ने केंद्रीय मंत्री रामेश्वर तेली के घर पर भी हमला किया.

गौरतलब है कि संसद की दोनों सदनों से पारित इस विधेयक में अफ़ग़ानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान से धार्मिक प्रताड़ना के कारण भारत आए हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के लोगों को भारतीय नागरिकता के लिए आवेदन करने का पात्र बनाने का प्रावधान है.

https://twitter.com/ANI/status/1204904575813111808

अर्थव्यवस्था की सुस्त रफ़्तार से प्रणब मुखर्जी चिंतित नहीं

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि वह आर्थिक सुस्ती को लेकर चिंतित नहीं हैं क्योंकि कुछ चीज़ें हो रही हैं जिनके अपने प्रभाव होंगे.

यूपीए सरकार में वित्त मंत्री रहे मुखर्जी ने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में पूंजी डालने में कुछ भी ग़लत नहीं है.

बुधवार को भारतीय सांख्यिकी संस्थान के कार्यक्रम में उन्होंने कहा, "2008 में वित्तीय संकट के दौरान भारतीय बैंकों ने लचीलापन दिखाया था. तब वे वित्त मंत्री थे. लेकिन तब सार्वजनिक क्षेत्र के एक भी बैंक ने पूंजी के लिए उनसे संपर्क नहीं किया था. अब सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को बड़े पैमाने पर पूंजी की ज़रूरत है और इसमें कुछ ग़लत नहीं है."

https://twitter.com/ANI/status/1204922745374400512

झारखंड विधानसभा चुनावः तीसरे चरण में 17 सीटों पर मतदान

झारखंड में तीसरे चरण के विधानसभा चुनाव के दौरान गुरुवार को 17 सीटों पर मतदान हो रहा है.

इसी दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह विधानसभा के आगामी चरणों के चुनाव प्रचार में हिस्सा लेंगे.

पीएम मोदी धनबाद के बरवाअड्डा में दिन में दोपहर में जनसभा को संबोधित करेंगे. तो रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी हीरनपुर बाज़ार, जमुआ और दुमरी में जनसभाएं करेंगे.

मुज़फ़्फरपुर बालिक आश्रय गृह मामले के मुख्य अभियुक्त ब्रजेश ठाकुर
BBC
मुज़फ़्फरपुर बालिक आश्रय गृह मामले के मुख्य अभियुक्त ब्रजेश ठाकुर

मुज़फ़्फ़रपुर बालिका गृह मामले में कोर्ट सुनाएगी फ़ैसला

मुज़फ़्फ़रपुर बालिका गृह में कई लड़कियों के कथित यौन उत्पीड़न और हिंसा के मामले में दिल्ली की एक अदालत गुरुवार को अपना फ़ैसला सुनाएगी.

इस मामले में मुख्य अभियुक्त ब्रजेश ठाकुर समेत 12 पुरुष और आठ महिलाएं शामिल हैं. कोर्ट ने 20 मार्च 2018 को मामले में आरोप तय किए थे.

फिलहाल ये सभी अभियुक्त दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद हैं.

राजधानी की सभी छह ज़िला अदालतों में वकीलों की हड़ताल की वजह से इन अभियुक्तों को कोर्ट नहीं लाया जा सका था.

लिहाजा कोर्ट ने अपना फ़ैसला 12 दिसंबर के लिए टाल दिया था.

राव अनवर
EPA

पाकिस्तान के पूर्व पुलिस अधिकारी अमरीका में ब्लैक लिस्टेड

मानवाधिकारों के गंभीर उल्लंघन के मामलों को लेकर अमरीका ने पाकिस्तान के रिटायर्ड पुलिस अधिकारी राव अनवर अहमद ख़ान को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया है.

यूएस ट्रेजरी ने यह जानकारी देते हुए कहा कि अनवर मलिर में एसएसपी के तौर पर कार्यरत थे जब उन पर लगातार कई फर्जी पुलिस मुठभेड़ को अंजाम देने के लिए ज़िम्मेदार ठहराया गया. इसके अलावा उन पर वसूली, ज़मीन दखल, मादक पदार्थों की तस्करी और हत्याएं करने के आरोप भी हैं."

वित्त मंत्रालय के तरफ से यह भी बताया गया कि मलिर ज़िले में 190 के अधिक मुठभेड़ों को अंजाम दिया था, जिसमें 400 से अधिक लोग मारे गए थे.

'वॉइस ऑफ़ कराची' के प्रमुख नदीम नुसरत ने यूएस ट्रेजरी के इस फ़ैसले का स्वागत किया और कहा कि मानवाधिकार की रक्षा करने की दिशा में यह ऐतिहासिक कदम है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

]]>

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement