Advertisement

bbc news

  • Sep 16 2019 10:30AM
Advertisement

हरियाणा में NRC लागू करेंगे: मनोहर लाल खट्टर

हरियाणा में NRC लागू करेंगे: मनोहर लाल खट्टर

मनोहर लाल खट्टर

Getty Images

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है हरियाणा में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) को लागू किया जाएगा.

खट्टर ने एक ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, 'हरियाणा में हम असम की तर्ज पर एनआरसी लागू करेंगे. मैंने इस बारे में रिटायर्ड जज एचएस भल्ला से बात की है.'

रिटायर्ड जज एचएस भल्ला, हरियाणा मानवाधिकार आयोग के पूर्व अध्यक्ष हैं.

मुख्यमंत्री खट्टर ने संवाददाताओं से कहा, 'इसके अलावा राज्य में एक विधि आयोग बनाने पर भी विचार किया जा रहा है.'

हरियाणा में इसी साल अक्तूबर में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. साल 2014 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 47 सीटें जीतकर पहली बार अपने दम पर सरकार बनाई थी.

असम के 'एनआरसी' के बारे में कितना जानते हैं

एनआरसी को लेकर बांग्लादेश में क्यों है चर्चा

सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया

हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर के इस बयान पर सोशल मीडिया में मिलीजुली प्रतिक्रिया देखने को मिल रही हैं.

चंदर पवार लिखते हैं, 'आपके वोट कम हो जाएंगे.'

प्रकाश कुमार लिखते हैं, 'हरियाणा से किसे भगाना है.'

हिमांशु शर्मा ने लिखा है कि हरियाणा में एनआरसी को तुरंत लागू करवाएं.

मोहित आज़ाद ने एनआरसी के लिए मुख्यमंत्री खट्टर का समर्थन किया है.

एनआरसी क्या है

नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (एनआरसी) में उन लोगों के नाम होते हैं जो भारत के वैध नागरिक हैं.

फिलहाल असम एकमात्र राज्य है जिसने एनआरसी तैयार की है.

असम में इसे लेकर काफी विवाद हुआ है.

इसका मकसद बांग्लादेश से आए अवैध प्रवासियों को राज्य से बाहर निकालना था.

लेकिन बड़ी संख्या में ऐसे लोग सामने आए हैं जिनका दावा है कि वो असम के मूल निवासी हैं, लेकिन ये बात साबित करने के लिए उनके पास कोई वैध दस्तावेज़ नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

]]>

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement