Advertisement

bbc news

  • Jun 13 2019 7:55AM
Advertisement

अकादमी पुरस्कार से सम्मानित कार्टून पर ईसाई धर्म के 'अपमान' का आरोप- प्रेस रिव्यू

अकादमी पुरस्कार से सम्मानित कार्टून पर ईसाई धर्म के 'अपमान' का आरोप- प्रेस रिव्यू

केरल

Getty Images
सांकेतिक तस्वीर

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक़ केरल ललित कला अकादमी से सम्मानित एक कार्टून राज्य में सियासी विवाद की वजह बन गया है.

अख़बार लिखता है कि केरल की कैथोलिक बिशप काउंसिल ने इस कार्टून के ख़िलाफ़ यह कहते हुए मोर्चा खोल दिया है कि कार्टून ईसाइयों के धार्मिक चिह्नों का अपमान करता है.

ये कार्टून दरअसल बलात्कार के अभियुक्त बिशप फ़्रैंको मुलक्कल का कैरिकेचर है. मुलक्कल पर एक नन के साथ बलात्कार करने के आरोप के बाद उन्हें गिरफ़्तार किया गया था और उन्हें पद से हटा भी दिया गया था.

वैसे तो ये कार्टून पिछले साल ही एक मलयाली पत्रिका में प्रकाशित हुआ था लेकिन अकादमी पुरस्कार मिलने के बाद ये अचानक चर्चा में आ गए.

कार्टून बनाने वाले केके सुभाष का कहना है कि वो इन विवादों में पड़ना ही नहीं चाहते क्योंकि ये एक राजनीतिक व्यंग्य था और उनका मक़सद किसी की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाना नहीं था.

फ़िलहाल प्रदर्शनकारियों का दबाव झेल रही सीपीआईएम सरकार ने अकादमी से इसके फ़ैसले की समीक्षा करने का अनुरोध किया है.

ये भी पढ़ें: पादरी की मौत, पोस्ट मॉर्टम रिपोर्ट से खुलेगा राज़?

नरेंद्र मोदी
Reuters

वक़्त पर ऑफ़िस पहुंचें मंत्री, 'वर्क फ़्रॉम होम' से बचें: मोदी

जनसत्ता के पहले पन्ने पर ख़बर है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को मंत्रिपरिषद् की बैठक में मंत्रियों को कई नसीहतें दीं. मसलन, वो टाइम पर ऑफ़िस पहुंचें और घर से काम करने यानी 'वर्क फ़्रॉम होम' से बचें और आम लोगों के लिए मिसाल क़ायम करें.

पीएम मोदी ने मंत्रियों से कहा कि वो कुछ वक़्त निकालकर अधिकारियों से मंत्रालय के कामकाज के बारे में जानकारी लें, पार्टी सांसदों और जनता से मिलते रहें.

अख़बार सूत्रों के हवाले से लिखता है कि नई सरकार के मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने वरिष्ठ मंत्रियों को नए मंत्रियों को साथ लेकर चलने की सलाह दी है.

राज्य मंत्रियों को बड़ी भूमिका देने पर मोदी ने कहा कि कैबिनेट मंत्रियों को उनके साथ महत्वपूर्ण फ़ाइलें शेयर करनी चाहिए क्योंकि इससे मंत्रालय के कामकाज में सुधार आएगा.

पीएम मोदी ने ये भी सलाह दी कि फ़ाइलों को तेज़ी से निबटाने के लिए कैबिनेट मंत्री और उनके सहायक मंत्री साथ बैठकर प्रस्तावों पर मुहर लगा सकते हैं.

ये भी पढ़ें: राहुल और मोदी केरल में अब भी चुनावी मोड में हैं?

पिनारयी विजयन
PINARAYI VIJAYAN, FACEBOOK

CM पर 'आपत्तिजनक' पोस्ट, 119 लोगों पर केस

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार सोशल मीडिया पर केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के ख़िलाफ़ 'आपत्तिजनक' पोस्ट करने के मामले में 119 लोगों पर मामले दर्ज किए गए हैं.

ये मामले पिछले तीन साल से लेकर अब तक के हैं. अख़बार लिखता है कि जिन लोगों पर केस दर्ज किए गए हैं, उनमें एक बड़ी संख्या सरकारी कर्मचारियों की भी है.

विधानसभा पर अपलोड किए एक जवाब में बताया गया है कि 12 सरकारी/अर्ध सरकारी और एक केंद्र सरकार के कर्मचारी हैं.

जवाब में बताया गया है कि राज्य सरकार के 41 कर्मचारियों पर मुख्यमंत्री और बाक़ी मंत्रियों के ख़िलाफ़ आपत्तिजनक सोशल मीडिया पोस्ट लिखने की वजह से मामला दर्ज किया है.

वेबसाइट पर छपे जवाब में ये भी बताया गया है कि 26 लोगों को मुख्यमंत्री और सबरीमला मसले पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के सिलसिले में गिरफ़्तार किया गया है.

ये भी पढ़ें: प्रशांत कनौजिया मामले में कौन सही कौन ग़लत

इंडिया गेट
EPA

दिल्ली-NCR में गर्मी से राहत, प्रदूषण से आफ़त

कई अख़बारों जैसे कि हिंदुस्तान टाइम्स और दैनिक भास्कर के पहले पन्ने पर दिल्ली-एनसीआर की तस्वीरें भी हैं जहां बुधवार शाम आंधी और हल्की बूंदाबादी से तापमान तो नीचे आ गया लेकिन इसके साथ ही प्रदूषण भी बढ़ गया.

हिंदुस्तान टाइम्स लिखता है कि दिल्ली-एनसीआर में धूल भरी आंधी चली जिससे तापमान में तक़रीबन 10 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई. हालांकि मौसम विभाग ने दिल्ली में बारिश का अनुमान नहीं लगाया था फिर भी कुछ इलाक़ों से हल्की बारिश की ख़बरें आईं.

मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली और आसपास के इलाक़ों में गुरुवार को भी हल्की बूंदाबांदी हो सकती है.

ये भी पढ़ें: दिल्ली के प्रदूषण से किसे हो रहा है फ़ायदा?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

]]>

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement