Advertisement

bbc news

  • Apr 18 2019 11:00PM
Advertisement

मुकेश अंबानी कांग्रेस प्रत्याशी मिलिंद देवड़ा के समर्थन में आए

मुकेश अंबानी कांग्रेस प्रत्याशी मिलिंद देवड़ा के समर्थन में आए
रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा के समर्थन में बयान दिया है. मिलिंद देवड़ा दक्षिणी मुंबई लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं.

मिलिंद ने एक वीडियो ट्वीट किया है और उस वीडियो में मुकेश अंबानी उनके समर्थन में बोलते दिख रहे हैं. एक तरफ़ मुकेश अंबानी चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार को समर्थन कर रहे हैं तो दूसरी तरफ़ उनके छोटे भाई अनिल अंबानी पर कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी जमकर निशाना साध रहे हैं.

मुकेश अंबानी ने इस वीडियो में कहा है, ''मिलिंद दक्षिणी मुंबई के ही हैं...मिलिंद को दक्षिणी बॉम्बे के समाज, अर्थशास्त्र और संस्कृति का गहरा ज्ञान है.''

अपने ट्वीट में मिलिंद ने लिखा है, ''छोटे दुकानदार से बड़े उद्योगपति तक- दक्षिणी मुंबई में सबके कारोबार का ज़रिया. दक्षिणी मुंबई में हमें कारोबार को फिर से पटरी पर लाना है और नौकरियां पैदा करनी हैं. युवा हमारी प्राथमिकता में हैं.''

यह अपने आप में अपवाद है कि कोई धनकुबेर उद्योगपति किसी उम्मीदवार का चुनाव में खुलकर समर्थन कर रहा हो.

https://twitter.com/milinddeora/status/1118581093140135936

मिलिंद देवड़ा ने कहा है, ''मुझे पता है कि मुकेश अंबानी और उदय कोटक का समर्थन बाक़ियों के समर्थन की तुलना में लोगों का ध्यान ज़्यादा आकर्षित करेगा. मुझे इनके समर्थन पर गर्व है लेकिन उतना ही गर्व पानवाले, छोटे दुकानदारों, छोटे उद्योगों के समर्थन पर भी है.'' मिलिंद देवड़ा मुकेश अंबानी की टेलीकॉम कंपनी जियो के कैंपेन में भी शामिल हुए थे.

अनिल पर राहुल का निशाना

मुकेश अंबानी
Getty Images

मुकेश अंबानी के इस समर्थन की चर्चा इसलिए हो रही है क्योंकि राहुल गांधी उनके भाई पर चुनावी रैलियो में खुलकर हमला बोलते रहे हैं. राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अनिल अंबानी के सहारे क्रोनी कैपिटलिज़्म को बढ़ावा देने का आरोप लगाते रहे हैं.

राहुल गांधी रफ़ाल सौदे में अनिल अंबानी को फ़ायदा पहुंचाने का आरोप लगाते रहे हैं.

मुकेश अंबानी ने पिछले महीने अपने भाई अनिल अंबानी को उनके 458.77 करोड़ रुपए का क़र्ज़ चुकाकर जेल जाने से बचाया था. अगर अनिल अंबानी एरिक्सन के इस क़र्ज़ को नहीं चुकाते तो जेल जाना पड़ता. इस बकाए को चुकाने में अपने बड़े भाई मुकेश और भाभी नीता अंबानी की मदद के लिए धन्यवाद करते हुए अनिल अंबानी ने एक बयान जारी किया था.

इस बयान में लिखा है, ''मुश्किल घड़ी में मुझे अपने परिवार से मदद मिली है. यह हमारे परिवार के मज़बूत मूल्यों को ही दर्शाता है. जिस वक़्त मुझे सबसे ज़्यादा मदद की ज़रूरत थी मेरा परिवार साथ खड़ा हुआ.''

क्या दोनों अंबानी भाइयों में अब सब कुछ ठीक हो गया

एक वक़्त था जब दोनों भाइयों के संबंध अच्छे नहीं थे और दोनों में प्रतिद्वंद्विता थी. अनिल अंबानी ने लिखा था, ''मैं और मेरा परिवार इस बात के लिए आभारी है कि हम अतीत से निकल गए हैं. इस मदद के लिए दिल से आभार प्रकट करता हूं.''

अनिल अंबानी ने पिछले साल ही निजी तौर पर वादा किया था कि साल के अंत तक वो एरिक्सन का क़र्ज़ चुका देंगे. सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि चार हफ़्ते के भीतर अगर एरिक्सन का पैसा नहीं मिलता है तो अनिल अंबानी और उनके दो सहयोगियों को तीन महीने के लिए जेल जाना होगा.

दक्षिणी मुंबई में 29 अप्रैल को मतदान है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

]]>
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement