Advertisement

aurangabad

  • Sep 12 2019 7:48AM
Advertisement

ट्रैफिक नियम सख्त हुआ, तो लोगों की टूटी नींद

ट्रैफिक नियम सख्त हुआ, तो लोगों की टूटी नींद

 औरंगाबाद : जिला परिवहन कार्यालय में ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए भीड़ उमड़ रही है. नये नियम के लागू होने के बाद जुर्माना से बचने के लिए लोग अब लाइसेंस बनवाने के लिए दफ्तार का चक्कर लगा रहे है. लोग सुबह आठ बजे ही कार्यालय पहुंच जा रहे है. दिनभर में लगभग दो सौ से लेकर तीन सौ लोग पहुंच रहे हैं.

 
 इसमें से आधे से अधिक निराश लौट रहे हैं. विभाग के कार्यालय में एक काउंटर पर ही लाइसेंस बनवाने से संबंधित काम हो रहा है. कई लोग गर्मी से परेशान हो बीच-बीच में निकलने के लिए लाइन में खड़े आगे और पीछे के लोगों से आरजू करते देखे गये. कई लोग तो विरोध भी करते देखे गये.  
 
दलालों की बढ़ी पूछ : परिवहन विभाग की सख्ती के बाद ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए लोग अब दलाल को खोज रहे है. शनिवार को कार्यालय के समीप एक दलाल लोगों से घिरा दिखा. 
 
एक युवक के पूछने पर उसने बताया कि लाइसेंस बनाने के लिए 9000 रुपये लगेगा और डेढ़ माह के बाद लाइसेंस आपके घर पहुंच जायेगा. बनाना है तो जल्द बोलिये. वक्त नहीं है. दूसरे दलाल ने कहा कि आइये बैठिये. बाइक व कार का लाइसेंस बनवाने में आपको फायदा होगा. 
 
अगर केवल बाइक का लाइसेंस बनवायेंगे तो आठ हजार रुपये लगेगा. बनवाना होगा तो बता दीजियेगा. हम यहीं मिल जायेंगे. वैसे जब से नया नियम लागू हुआ है, तब से अचानक जिला परिवहन कार्यालय में ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने से लेकर अन्य कागजात बनाने के लिए लंबी लाइन लग रही है.
 
नियमों के उल्लंघन पर पुलिस पदाधिकारियों को लगेगा दोगुना जुर्माना
कुटुंबा़  यातायात नियमों का पालन केवल आम लोगों को ही नहीं बल्कि पुलिस पदाधिकारियों को भी करना होगा़  यदि वे यातायात नियमों को उल्लंघन करते हैं, तो उनसे सामान्य नागरिक के अपेक्षा दोगुना जुर्माना देना होगा. 
इस संबंध में पुलिस उपाधीक्षक परिवहन विभाग ने पत्र जारी किया है. यदि वे इसका पालन नहीं करते है कि उनके खिलाफ अनुशासनिक कार्रवाई के लिए वरीय अधिकारियों को लिखा जायेगा. जुर्माने की राशि पुलिस वाले अपनी वेतन से भरेंगे. 
 
अचानक बढ़ी भीड़ से कर्मचारी परेशान
 लंबी लाइन में छात्राओं के साथ उनके अभिभावक भी नजर आये. अभिभावक कर्मचारियों से जल्द काम करने की आरजू करते दिखे. कर्मचारी भी अचानक बढ़ी भीड़ के कारण परेशान हैं. लंच करने का भी मौका नहीं मिल पा रहा है. किसी तरह लंच कर पा रहे है. इस बीच कई बार लिंक फेल भी हो जा रहा था. लिंक फेल होने पर लोग शोर मचाने लग रहे थे. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement