Advertisement

asansol

  • Oct 13 2019 1:01AM
Advertisement

विधवा हत्याकांड में आरोपी भतीजा गिरफ्तार

 दुर्गापुर :  दुर्गापुर थाना  पुलिस ने  बीते सात अगस्त को हुए अंजलि बनर्जी  हत्याकांड में मृतका के भतीजा प्रशांत बनर्जी को गिरफ्तार किया है.  शनिवार को उसे दुर्गापुर महकमा अदालत में पेश किया गया. 

 
 पुलिस जांच अधिकारी की अपील पर कोर्ट ने उसे सात दिनों की पुलिस रिमांड पर भेज दिया. हत्याकांड में मृतका के दामाद कंचन अधिकारी  की संलिप्तता के भी साक्ष्य मिले हैं. हत्याकांड के पीछे   दामाद  कंचन बनर्जी  द्वारा  सास  अंजलि के मकान हड़पने का कारण बताया जा रहा है.
 
उल्लेखनीय है कि बीते सोमवार को अंजलि बनर्जी (42)  का शव पुलिस ने उसके घर से बरामद किया था. शव को देख  अनुमान  लगाया गया था कि संभवत:  दुराचार के बाद उसकी हत्या की गई है. दुर्गापुर थाना पुलिस ने इसकी जांच शुरू की थी. जांच में मिले साक्ष्य के अनुसार विगत सोमवार की रात दामाद कंचन  मृतका के भतीजा प्रशांत  को लेकर सास अंजलि के घर पहुंचा था.
 
 कंचन एवं प्रशांत ने बैठकर शराब सेवन किया. शराब सेवन के बाद योजना के अनुसार कंचन एवं प्रशांत ने मिलकर  गला दबाकर  उसकी हत्या कर दी.  हत्या की खबर मिलने के बाद से कंचन एवं प्रशांत दोनों महकमा अस्पताल में पोस्टमार्टम के समय भी मौजूद थे एवं परिजनों को गुमराह करने हेतु मृतका के परिजनों का सहयोग कर रहे थे.
 
अंजलि के पति का देहांत नौ वर्ष पहले हो गया था. वह अपनी तीन बेटियों के साथ  अकेली हो गई थी. तीनों बेटियों की शादी करने के बाद अंजलि  दूसरे के घरों में  कामकाज  करके  अपना जीवन यापन करती थी एवं काली मंदिरपाड़ा में अकेले रहती थी.  संपत्ति के नाम पर सिर्फ एक  मकान ही बच गया था.  इसकी कीमत  करोड़ों में है. कई बार प्रशांत ने मकान उसके नाम  करने का दबाव बनाया था. लेकिन अंजलि राजी  नहीं हो रही थी.
 
 इसी बीच दमाद ने  सास अंजलि को  रास्ते से हटा कर उसकी  मकान  हड़पने की  साजिश रची  एवं  भतीजा को साथ मिलाकर हत्याकांड को  अंजाम  दिया. थाना प्रभारी गौतम तालुकदार ने बताया कि  हत्याकांड में एक आरोपी को गिरफ्तार कर रिमांड पर लिया गया है.  दामाद की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है.    
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement