Advertisement

asansol

  • Mar 24 2019 1:56AM

राहुल के इंतजार में बेकाबू हुई भीड़

राहुल के इंतजार में बेकाबू हुई भीड़

 बैरीकेड तोड़ने की कोशिश

कड़ी धूप में लंबे इंतजार के बाद राहुल के पहुंचने पर हुई शांति

स्थानीय नेतृत्व ने कहा इतनी भीड़ की कल्पना नहीं की थी  

मालदा : जिले के चांचल एक नंबर ब्लॉक अंतर्गत कलमबागान में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की जनसभा शुरू होने से पहले दोपहर को भीड़ अचानक अनियंत्रित हो गयी. शनिवार को कांग्रेस समर्थक दोपहर 12 बजे से ही सभास्थल के मैदान में जमा हो गये थे. लंबे समय से तेज धूप में खड़े-खड़े उनके धैर्य ने जब जवाब देना शुरू किया तो दूरदराज से आये राहुल प्रशंसक गुस्से में आ गये और उन्होंने सुरक्षा के लिए बने बैरीकेड को तोड़कर सभामंच की ओर बढ़ने का प्रयास किया.

 इस दौरान कुर्सियों को फेंकने की घटना भी हुई, जिसके बाद कांग्रेसी स्वयंसेवकों और पुलिस को मौके पर हस्तक्षेप करना पड़ा. इसके अलावा रायगंज से प्रत्याशी दीपा दासमुंशी, उत्तर मालदा से प्रत्याशी ईसा खान  चौधरी और जिलाध्यक्ष मोस्ताक आलम ने उग्र भीड़ को शांत किया. पार्टी समर्थक शिकायत कर रहे थे कि जनसभा तीन बजे से है, जबकि उन्हें एक बजे ही सभास्थल पर आने के लिए कहा गया था. यहां न तो शौचालय और न ही पेयजल की व्यवस्था है, जिससे इस गर्मी में उनकी हालत खराब हो गयी. आखिर में ठीक तीन बजे राहुल गांधी का हेलीकाप्टर पहुंचा और लोगों ने अपने नेता का दीदार किया, तब जाकर कहीं माहौल शांत हुआ.

इस बारे में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष मोस्ताक आलम ने बताया कि दरअसल, राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को काफी समय तक नहीं देख पाने से उनके प्रशंसकों का धैर्य जवाब दे गया. रैली का इंतजाम करनेवालों ने सोचा ही नहीं था कि इतनी विशाल भीड़ राहुल गांधी की जनसभा में जुटेगी और उनके दर्शन के लिए बेचैन हो जायेगी. उन्होंने कहा कि कहीं कोई अव्यवस्था नहीं हुई है. पेयजल की व्यवस्था की गयी थी, पर भीड़ में लोगों की नजर उस पर नहीं पड़ी होगी. जनसभा शांत माहौल में ही संपन्न हुई है. 


 

Advertisement

Comments

Advertisement