रोहित शेखर हत्याकांड में उनकी पत्नी अपूर्वा गिरफ्तार
Advertisement

allahabad

  • Nov 2 2017 3:41PM

एनटीपीसी ब्वॉयलर ब्लास्ट की जांच के लिए कमेटी गठित, मृतकों के परिजन को 20 लाख : आरके सिंह

एनटीपीसी ब्वॉयलर ब्लास्ट की जांच के लिए कमेटी गठित, मृतकों के परिजन को 20 लाख : आरके सिंह

 

रायबरेली : केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने आज उत्तरप्रदेश के रायबरेली के ऊच्चाहार में एनटीपीसी के पॉवर प्लांट का दौरा किया. कल इस पॉवर प्लांट में ब्यॉयलर फट जाने के कारण अबतक 30 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि दर्जनों लोग गंभीर हैं. केंद्रीय ऊर्जा मंत्री ने आज घटना स्थल का जायजा लेने के बाद कहा कि ब्लास्ट के कारणों की जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है और उसके आधार पर आवश्यक रक्षात्मक कदम उठाये जायेंगे, ताकि भविष्य में ऐसा नहीं हो. आरके सिंह ने मीडिया से कहा कि दुर्घटना में मारे गये लोगाें के निकट परिजनों को 20-20 लाख रुपये दिये जायेंगे, जबकि गंभीर रूप से घायल लोगों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये एवं सामान्य रूप से घायल लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये मुआवजा दिया जायेगा.


 
इससे पहले उत्तरप्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी पीड़ितों के लिए मुआवजे का एलान किया था. राज्य सरकार ने कहा था कि मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये एवं कम गंभीर घायलों को 25-25 हजार रुपये दिये जायेंगे.



उधर, आज सुबह कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज रायबरेली का दौरा किया. उनके साथ गुलाम नबी आजाद सहित कांग्रेस के कई प्रमुख नेता थे. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने दुर्घटना को गंभीर चूक बताया है और मामले की न्यायिक जांच की मांग की है. गुलाम नबी के कहा कि रायबरेली में एनटीपीसी की जिस यूनिट में ब्लास्ट हुआ है, उसका संचालन हड़बड़ी में आरंभ किया गया था. बुधवार दोपहर 3.40 बजे 500 मेगावट की यूनिट नंबर छह का ब्वॉयलर स्टीम पाइप धमाके के साथ फट गया.

NTPC हादसे से जुड़ी 20 बड़ी बातें, योगी आदित्यनाथ ने दिया अधिकारियों को सख्त निर्देश, पढ़ें


Advertisement

Comments

Other Story

Advertisement