Advertisement

USA

  • Apr 26 2019 11:42AM
Advertisement

बोले किम जोंग उन- हनोई वार्ता में अमेरिका ने ‘बदनीयत' के साथ किया व्यवहार

बोले किम जोंग उन- हनोई वार्ता में अमेरिका ने ‘बदनीयत' के साथ किया व्यवहार

सियोल : उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ हनोई में हुई शिखर वार्ता में अमेरिका पर ‘‘बदनीयत के साथ एकतरफा रुख अपनाने'' का आरोप लगाया है और कहा है कि कोरियाई प्रायद्वीप में शांति वॉशिंगटन पर निर्भर करती है.

‘कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी' (केसीएनएन) ने बताया कि किम ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ बृहस्पतिवार को हुई पहली शिखर वार्ता के दौरान यह बयान दिया. केसीएनए ने किम और पुतिन की बातचीत को ‘‘स्पष्ट एवं मित्रवत'' बताया। किम के यह बयान देने से करीब एक सप्ताह पहले ही उत्तर कोरिया ने अमेरिका के साथ वार्ता से अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ को हटाए जाने की मांग की थी और उन पर वार्ता प्रक्रिया को पटरी से उतारने का आरोप लगाया था.

केसीएनए ने बताया कि उत्तर कोरिया के नेता ने कहा, ‘‘कोरियाई प्रायद्वीप और क्षेत्र में हालात अब एक अहम बिंदु पर पहुंच गये हैं.'' एजेंसी के अनुसार, किम ने चेताया कि हालात ‘‘फिर से पुरानी स्थिति पर पहुंच सकते हैं क्योंकि अमेरिका ने हाल में दूसरी डीपीआरके-अमेरिका शिखर वार्ता में बदनीयत के साथ एकतरफा रुख अपनाया.'' किम-ट्रम्प शिखर वार्ता फरवरी में बिना किसी समझौते के समय से पूर्व समाप्त हो गयी थी.

केसीएनए के अनुसार, किम ने पुतिन से कहा कि उत्तर कोरिया ‘‘हर संभावित स्थिति के लिए स्वयं को तैयार करेगा.'' एजेंसी ने बताया कि किम ने पुतिन को ‘‘सुविधाजनक समय पर'' उत्तर कोरिया आने का आमंत्रण दिया और पुतिन ने यह आमंत्रण स्वीकार कर लिया.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement