Advertisement

UP

  • Apr 14 2019 7:14PM
Advertisement

मोदी का मायावती पर तंज - आंबेडकर को ‘भू-माफिया' कहने वालों के लिए मांग रही हैं वोट

मोदी का मायावती पर तंज - आंबेडकर को ‘भू-माफिया' कहने वालों के लिए मांग रही हैं वोट

मुरादाबाद/अलीगढ़ (उप्र) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सपा के साथ गठबंधन करके लोकसभा चुनाव लड़ रही बसपा प्रमुख मायावती पर निशाना साधते हुए रविवार को कहा कि वह बाबा साहब भीमराव आंबेडकर को भू-माफिया कहने वाले प्रत्याशी के लिए वोट मांग रही हैं.

मोदी ने मुरादाबाद में एक रैली में कहा कि अपने अस्तित्व के संकट को देखकर सपा-बसपा ने पहले एक-दूसरे को दी गयी सारी गालियां पीछे छोड़ दीं और नारा बन गया मेरा भी माफ, तुम्हारा भी माफ वरना हो जाएंगे दोनों साफ. इन्होंने हाफ-हाफ किया है. ये हाफ-हाफ वालों को यूपी पूरा साफ कर देगा. हिंदुस्तान में ऐसी लहर चल रही है कि इनका बचना मुश्किल है. महामिलावट की महागिरावट तय है. मोदी ने रामपुर से सपा प्रत्याशी आजम खां की तरफ इशारा करते हुए कहा, मायावती आज उस प्रत्याशी के लिए वोट मांगती हैं, जो बाबा साहब भीमराव अांबेडकर को भू-माफिया कहता है और विश्वविद्यालय के नाम पर दलित बस्तियों की जमीन कब्जाता है. यह वही लोग हैं जो मायावती का सद्दाम हुसैन जैसा हश्र करने की बात करते थे, जिनको अांबेडकर को माला पहनाना मंजूर नहीं था. मायावती उनके लिए वोट मांग रही हैं.

उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश पर भी तंज करते हुए कहा, क्या बबुआ (अखिलेश यादव) मुलायम सिंह जी को पागलखाने भेजवाने की बात कहने वाली मायावती की उस हरकत को भूल गये? आज हाथी साइकिल पर सवार है और निशाने पर चौकीदार है. प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर दिल्ली में सरकार बनानी है तो 272 सीटें चाहिए. जो लोग 40 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं, क्या वो 272 लायेंगे. ये आपकी आंखों में धूल झोंक रहे हैं. ये लोग सत्ता के लिए अपने वोट बैंक को उसके ठेकेदार बनकर एक-दूसरे को बेच रहे हैं. ट्रांसफर कर रहे हैं. वहीं, आपका यह चौकीदार 12 करोड़ किसानों के खाते में 75 हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर करने के लिए दिन-रात एक कर रहा है. मोदी ने वादा किया कि अगर केंद्र में दोबारा उनकी सरकार बनी तो किसानों को हर साल दी जाने वाली छह हजार रुपये की सहायता के लिए पांच एकड़ या उससे कम कृषि भूमि की शर्त को खत्म कर दिया जायेगा. इसके अलावा छोटे किसानों और खेत मजदूरों को 60 साल की उम्र के बाद हर महीने नियमित पेंशन मिलेगी.

उन्होंने यह भी कहा कि लघु उद्योगों से जुड़े लोगों, छोटे कामगारों और छोटे दुकानदारों को भी हमारी सरकार पेंशन देने का निर्णय करेगी. इसकी एक कड़ी के तौर पर पीएम श्रमयोगी मानधन योजना शुरू भी की जा चुकी है. दोबारा सरकार बनने पर योजनाओं का और विस्तार किया जायेगा. मोदी ने कहा कि भाजपा ने संकल्प लिया है कि सत्ता में फिर आने पर वह पहली बार राष्ट्रीय व्यापारी आयोग बनायेगी, ताकि आपकी हर समस्या का समय पर समाधान हो सके. इसके अलावा छोटे उद्यमियों को 50 लाख रुपये तक बिना गारंटी कर्ज देने का संकल्प भी हमारी सरकार ने किया है. उन्होंने किसानों का बकाया गन्ना भुगतान ना करने वाले चीनी मिल मालिकों को चेतावनी देते हुए कहा कि चुनाव खत्म होने के बाद आपकी बारी आयेगी. मैं किसानों को भरोसा देता हूं कि प्रदेश की योगी सरकार आपका एक-एक रुपया जल्द से जल्द दिलवाकर रहेगी. मैं भी पूरी ताकत लगाऊंगा.

इससे पहले, अलीगढ़ में आयोजित सभा में मोदी ने कहा कि आतंकवाद, भ्रष्टाचार, बीमारी और गरीबी को हटाना उनका संकल्प है. मोदी ने प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकारों पर उत्तर प्रदेश के साथ न्याय ना करने का आरोप लगाते हुए जनसभा में आये लोगों से कहा, दुनिया में चेन्नई की चर्चा होती है. बेंगलुरु, मुंबई और अहमदाबाद की चर्चा होती है. मेरे उत्तर प्रदेश की होनी चाहिए कि नहीं. दुनिया के लिए उत्तर प्रदेश सबसे आकर्षण का केंद्र बनना चाहिए कि नहीं. बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की जयंती के मौके पर उन्हें स्मरण करते हुए मोदी ने कहा, ये बाबा साहेब के संविधान की ताकत है कि दलित समाज से निकलकर एक सज्जन राष्ट्रपति पद पर हैं. ये बाबा साहेब का संविधान है कि एक चाय वाला भी प्रधानमंत्री बन सकता है.

सपा-बसपा सहित विपक्षी दलों को निशाने पर लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश 2014 में इन्हें बता चुका है कि जाति की स्वार्थभरी राजनीति नहीं, विकास चाहिए. मोदी ने सपा-बसपा पर हमला जारी रखते हुए कहा, (पश्चिमी उत्तर प्रदेश में) कैसे बहन-बेटियों के साथ दुर्व्यवहार हुआ, कैसे लोगों को अपना घर, अपना कारोबार छोड़ना पड़ा, ये देश ने देखा है. जब पश्चिमी यूपी जल रहा था, मासूम लोग मारे जा रहे थे, तब उसके पीड़ितों की आवाज को अनसुना करने वाला कौन था? उन्होंने कहा, अपने स्वार्थ की पूर्ति के लिए ऐसे लोगों ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लोगों की दुख-तकलीफें, उन पर जो गुजरी, सब भुला दिया है. पश्चिमी यूपी में कितना बड़ा पाप हुआ, पूरा देश इसका गवाह रहा है.

Advertisement

Comments

Advertisement

Other Story

Advertisement