Advertisement

Khunti

  • Aug 19 2019 9:25AM
Advertisement

खूंटी : सहयोग विलेज के बच्चों के बीच खुशियां बिखेरी

खूंटी : पैराडाइज सोसाइटी रांची ने सेविंग लाइफ के आदर्श वाक्य के साथ चल रहे खूंटी के डुगडुगिया स्थित सहयोग विलेज का दौरा किया. वहां नवजात शिशुओं सहित विभिन्न उम्र के अनाथ बच्चों के बीच करीब एक लाख रुपये की सामग्री का नि:शुल्क वितरण किया. इनमें बच्चों का परिधान, जरूरत का सामान व खेल सामग्री शामिल है. 

सहयोग विलेज को मार्च 2008 में खोला गया था. इसमें बच्चों के रहने के लिए 20 कॉटेज के साथ कंप्यूटर लैब, प्रार्थना हॉल, जैविक उद्यान की व्यवस्था की गयी है. सहयोग विलेज काे स्थापित करनेवाले मंजीत सिंह का कहना है कि हमारा उद्देश्य सेवा है. वे दिल्ली में रहते हैं, लेकिन छह चिल्ड्रेन होम, छह विशेष गोद लेनेवाली एजेंसी, चाइल्ड लाइन सेवा, दो नारी निकेतन, एक ओल्ड एज होम, कानूनी सहायता केंद्र व कई सामुदायिक केंद्र संचालित कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस सामाजिक कार्य में फंडिंग मुख्य चुनौती थी, लेकिन सभी बाधाओं के बावजूद 300 से अधिक बच्चों एवं 125 महिलाओं तथा बुजुर्गों की देखभाल हो रही है. अब तक 750 से अधिक बच्चों का पुनर्वास किया गया है. मौके पर सोसाइटी के ऋषिकेश, सचिव आलोक पोद्दार, कोषाध्यक्ष राजीव मुरारका सहित सोसाइटी के अन्य सदस्य उपस्थित थे.

क्या है पैराडाइज सोसाइटी : मई 2019 में समान विचारधारा के 14 मित्रों द्वारा स्थापित पैराडाइज सोसाइटी भारत में गरीबों को राहत देने, चिकित्सा, शिक्षा व सामान्य उन्नति के लिए काम करता है. संस्था धर्म, जाति व लिंग भेदभाव के बिना सेवा करती है. सोसाइटी हर माह एक ऐसे गैर सरकारी संगठन को सहायता के लिए चुनती है, जो समाज में उल्लेखनीय कार्य कर रही होती है. संस्था पहले भी रांची में गैर सरकारी संगठन एसोसिएशन फॉर सोशल एंड ह्यूमन अवेयरनेस का दौरा कर विभिन्न आयु समूह के 50 बच्चों के बीच एक लाख 13 हजार रुपये की जरूरत की सामग्री का वितरण कर चुकी है.

 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement