प्रत्याशियों पर हमला कर सकते हैं नक्सली

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची: आनेवाले लोकसभा चुनाव को लेकर पार्टी उम्मीदवारों पर खतरे की आशंका जतायी गयी है. प्रचार के दौरान नक्सली उम्मीदवार पर हमला कर सकते हैं. इस संबंध में एक रिपोर्ट निर्वाचन आयोग, नयी दिल्ली ने झारखंड के पुलिस अफसरों को भेजा है. रिपोर्ट के अनुसार चुनाव के दौरान नक्सली पोलिंग पार्टी को अगवा भी कर सकते हैं. वहीं सरकारी भवनों को निशाना बना सकते हैं. नक्सल प्रभावित इलाके में नक्सलियों द्वारा लैंड माइन लगाये जाने की आशंका जतायी गयी है. आयोग की रिपोर्ट को मानें, तो नक्सली चुनाव के दौरान पुलिस बल के साथ-साथ संचार साधन को भी निशाना बना सकते हैं. आयोग ने झारखंड में नक्सलियों की गतिविधियों पर विशेष निगरानी रखने का निर्देश पुलिस अफसरों को दिया है.

स्पेशल ब्रांच के एक सीनियर अफसर के अनुसार निर्वाचन आयोग से निर्देश मिलने के बाद सभी जिलों के एसएसपी/ एसपी को अलर्ट कर दिया गया है. उन्हें निर्देश दिया गया है कि चुनाव के दौरान वे खुद फोर्स के मूवमेंट का मैप तैयार करें. पुलिस अभियान में जाने से पूर्व विशेष रूप से सावधानी बरतने की हिदायत दी गयी है. इसके साथ ही पहले से एक निर्देश जारी कर उम्मीदवारों से अनुरोध किया है कि वे मीटिंग या अन्य कार्यक्रम की जानकारी पुलिस को दें, ताकि सभा स्थल पर पुलिस की तैनाती की जा सके.

चुनाव में आइआरबी के 25 कंपनी की तैनाती
लोकसभा चुनाव के दौरान झारखंड के नक्सल प्रभावित विभिन्न इलाके में आइआरबी के 25 कंपनी जवान तैनात होंगे. आइआरबी की विभिन्न बटालियन को मिला कर इको कंपनी गठित बटालियन का नाम इको बटालियन दिया गया है. आइआरबी के सभी कमांडेंट को अपने-अपने जवान को चुनाव ड्यूटी में जाने के लिए तैयार रखने का निर्देश दिया गया है. पुलिस अधिकारियों के अनुसार जिस इको कंपनी का गठन किया है. उन सभी को ए, बी सी और डी का नाम दिया गया है.

राजधानी रांची में 4200 शिक्षक करेंगे चुनाव कार्य
रांची में प्राथमिक से लेकर उच्च विद्यालय तक के 4200 शिक्षक चुनाव कार्य में लगाये जायेंगे. इनमें से तीन हजार शिक्षक प्राथमिक व मध्य विद्यालय के हैं, जबकि 1200 शिक्षक उच्च विद्यालय के हैं. इसके बाद आवश्यकता अनुरूप पारा शिक्षकों को भी चुनाव कार्य में लगाया जा सकता है. चुनाव के लिए शिक्षकों का प्रशिक्षण मार्च के अंतिम समाप्त में शुरू होने की संभावना है. प्रशिक्षण कार्य अलग-अलग चरणों में होगा. उल्लेखनीय है कि इस दौरान राज्य में मैट्रिक व इंटर की उत्तरपुस्तिका का मूल्यांकन भी होना है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें