Advertisement

national

  • Nov 8 2013 12:08AM

यूपीएससी पाठ्यक्रम के बदलाव पर जेएनयू के छात्र संघ ने किया प्रदर्शन

नयी दिल्ली: जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय के छात्र संघ ने संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित करायी जाने वाली परीक्षा के पाठ्यक्रम में हुए बदलावों के विरोध में आज प्रदर्शन किया और परीक्षा ढ़ांचे की समीक्षा करने की मांग की.

प्रदर्शनकारियों ने मुख्य परीक्षा में वैकल्पिक विषय के रुप में विदेशी भाषा और विशेष रुप से फारसी और अरब हटाने का विरोध किया है. जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय के छात्र संघ के पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने अपना विरोध दर्ज कराने के लिए कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के वरिष्ठ अधिकारी से भेंट की.

छात्र संघ के अध्यक्ष अकबर चौधरी ने बताया कि हाल ही में यूपीएससी के पाठ्यक्रम और परीक्षा की ढ़ांचे में हुए बदलाव के विरोध में जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय का छात्र संघ पिछले एक माह से अभियान चला रहा है. इनकी मुख्य मांग परीक्षा से वैकल्पिक विषय के रुप में विदेशी भाषाओं को हटाया जाना और प्रारंभिक परीक्षा में सीसैट का पैटर्न लागू किया जाना है.

चौधरी ने कहा कि हमें आयोग से कोई सकारात्मक जवाब नहीं मिला है और यहां तक कि कार्मिक, जन शिकायत और पेंशन मामलों के राज्य मंत्री वी. नारायणसामी से हुई भेंट से भी कोई लाभ नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि हमारे पास अब कोई विकल्प नहीं है. एकमात्र विकल्प है कि हम युवाओं को एकत्र करें और शतकीलीन सत्र के आरंभ पर संसद तक मार्च करें.


 

जवाहर लालनेहरु विश्वविद्यालय छात्र संघ का साथ दिल्ली विश्वविद्यालय और जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्र संघ भी दे रहे हैं.

Advertisement

Comments

Other Story

Advertisement