लालू राज में अतिपिछड़ों, महादलितों पर सबसे ज्यादा अत्याचार : शाह

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नोखा (रोहतास) : भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बिहारविधानसभाचुनावमें दूसरे चरणवालीसीटों के लिए आज चुनाव प्रचार किया. अमित शाहआज रोहतास जिले केनोखा विधानसभा क्षेत्रमें प्रचार करने पहुंचे. इस दौरान उन्होंने महागंठबंधन के नेतानीतीश कुमार व लालू प्रसादपर विकास के मुद्दे पर निशाना साधा. यहां लालू नीतीश की जोड़ी विकास नहीं कर सकती है.शाह ने कहा विकास नरेंद्र भाई के नेतृत्व में हो सकता है.


नरेंद्र भाई आज अगर देश के पीएम बने हैं तो बिहार की जनता की कृपा से व वोट से बने हैं. एक ही साल के अंदर बिहार को क्या चाहिए, पैसा कहां से चाहिए, यह सारा काम एक साल के अंदर समाप्त कर बिहार का पैकेज लेकर यह नरेंद्र मोदी की सरकार आयी है. अमित शाह ने वहां उपसि्थत लोगों से पूछा कि बताइए नरेंद्र मोदी कितने का पैकेज लाये हैं.


उन्होंने कहा कि सवा लाख करोड़ व अन्य योजनाओं का 40 हजार करोड़ का पैकेज है और मुख्यमंत्री के अहंकार को देखिए कहते हैं कि यह पैकेज नहीं चाहिए. हमें नहीं चाहिए हम अपने पैर पर खड़े होंगे.


उन्होंने कहा नीतीश कुमार किस मुगालते में जी रहा है. उन्होंने कहा कि यह पैसा गरीबों किसानों के लिए है. हमने देश की जनता ने एक चाय वाले के बेटे को देश का प्रधानमंत्री बनाया है. नरेंद्र मोदी ने बिहार पर कोई अहसान नहीं किया है. यह पैकेज बिहार की जनता का अधिकार है. दस साल तक साेनिया मनमोहन की सरकार थी. लालू जी साथ थे, दो साल से नीतीश कुमार भी उनके गोद में बैठे हैं. लेकिन वे उसका कोई जवाब नहीं दे रहे हैं.शाह ने पूछा चुनाव बिहार सरकार का है या केंद्र सरकार का. उन्होंने कहा कि वे हमसे हिसाब मांग रहे हैं अरे 2019 में जब हम वोट मांगने आयेंगे तब हम अपने काम का जवाब देंगे.
अमित शाह ने कहा कि भाइयों बताओ नरेंद्र मोदी हमारी पार्टी के नेता हैं या लालू नीतीश की पार्टी की. पर हम तो उनका कम नाम लेते हैं,वेअपने भाषण में मोदी, मोदी, मोदीजपतेरहते हैं.
उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद क्या बोलते हैं, हमें समझ में नहीं आता. कभी कहते हैं कि कौवा मार देंगे, कबूतर मार देंगे, चूहा मार देंगे, फिर कहते हैं कि हल्दी सिंदूर जला देंगे.अमितशाह ने सवाल पूछा कि क्या इससे बिहार का विकास होगा. लालू आयें तो पूछें कि सिंदूर हल्दी जलाने से विकास कैसे होगा. वे रोजकहतेहैं कि भाजपा सत्ता में आयेगी तो आरक्षण हटा देगी. लेकिन मैं आश्वस्त करता हूं कि आरक्षण में कोई बदलाव नहीं होंगे.


अमित शाह ने कहा कि भैया नीतीश बतायें जब मोदी जी की रैली में छह बिहारी शहीद हो गये थे, तो आप कहां थे, मोदी जी सबके घर गये थे. आदिवासियों व किसानों पर गोली चली थे तो आप कहां गये.


मैं आश्वस्त करता हूं कि बिहार पर बिहारी ही शासन करेगा. लेकिन नीतीश कुमार इससे आप खुश नहीं हो जाना. भाजपा का बिहारी राज्य पर शासन करेगा. एक से एक नेताओं की हमारे पासश्रृंखला है. उन्होंने लोगों की ओर सवाल उछाला कि लालू राबडी के 15 साल के शासन को क्या कहते हैं, आपको याद है जोर से बताइए जंगल राज. उस समय क्या हाल था. रूह कांपती थी. आये दिन हत्या, बलात्कार,लूट होतेथे. सबसे ज्यादा अत्याचार महादलित व अतपिछड़ों पर हुआ था. हमें लगा इसे खत्म करना है. हमें लगा कि अकेले हम यह नहीं कर सकते हैं नीतीश कुमार को हमने सीएम प्राेजेक्ट किया. उन्होंने 2013में धोखा दिया. अमित शाह ने जनसभा में नीतीश कुमार से सवाल पूछा कि आपने मुख्यमंत्री बनने के लिए क्या किया. जिस लालू के जंगलराज के खिलाफ आप 20 साल तक लड़ते रहे उसी से मिल गये.


जब ये बहुत छोटे थे, तो जेपी के अांदोलन में शामिल हुए. हमारे रविशंकर जी भी उनके साथ थे. जेपी, कपूर्री लोहिया के गैर कांग्रेसवाद में शामिल हुएऔर आज उनसे ही मिल गये. ये लालू नीतीश विकास नहीं कर सकते हैं. ये पैकेज का उपयोग नहीं कर सकेंगे.


अमित शाह ने कहा कि ऐसी सकरार चुनिए जो बिहार का विकास करे. नरेंद्र भाई के साथ चलें.उन्होंनेलोगों सेपूछा कि आप मुझे बताइए कि आप सभी 25 25 लोगों कोबीजेपीकेपक्ष में वोट करनेकेलिएकहेंगे न. उन्होंने कहा कि मित्रों आप बटन ऐसे दबाइएकिबटनयहांदबे करंटराहुलके ननिहाल इटलीमें लगे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें