Advertisement

world

  • Oct 10 2013 5:13PM

साहित्य का नोबेल पुरस्कार जीतकर एलिस मुनरो ने कहा, आश्चर्यचकित हूं

साहित्य का नोबेल पुरस्कार जीतकर एलिस मुनरो ने कहा, आश्चर्यचकित हूं

 स्टॉकहोम : कनाडा की एलीस मुनरो को आज नोबेल साहित्य पुरस्कार देने की घोषणा की गयी. उन्हें यह पुरस्कार मानवीय परिस्थितियों की कमजोरियों पर आधारित लघु कथाआंे के लिए प्राप्त हुआ. यह पुरस्कार पाने वाली एलिस सिर्फ 13वीं महिला हैं.

स्वीडिश अकादमी ने एलिस (82वर्ष) को समकालीन लघु कहानी का मास्टर बताकर सम्मानित किया. अकादमी ने उनकी प्रशंसा करते हुए कहा कि उनकी कहानियों की पृष्ठभूमि छोटे शहरों के माहौल में होती है जहां सामाजिक स्वीकार्य अस्तित्व के लिए संघर्ष के कारण अक्सर रिश्तों में तनाव और नैतिक विवाद होता है.

वर्ष 1901 में शुरु हुए नोबेल साहित्य पुरस्कार से सम्मानित होने वाली एलिस सिर्फ 13वीं महिला हैं. वह यह प्रतिष्ठित सम्मान पाने वाली पहली कनाडाई नागरिक हैं.

एलिस को 10 दिसंबर को स्टाकहोम में एक औपचारिक समारोह में 12 . 4 लाख डालर की राशि और पुरस्कार दिया जायेगा. कनाडाई लेखिका एलिस मुनरो ने आज कहा कि वह यह जानकार काफी आश्चर्यचकित और प्रसन्न हैं कि उन्होंने साहित्य का नोबेल पुरस्कार जीता है.

एलीस ने सीबीसी से कहा,हां मुझे पता था कि मैं दौड़ में हूं लेकिन मुझे नहीं पता था कि मैं जीतूंगी.   लेखिका ने कहा कि उनकी बेटी ने उन्हें जगाते हुए खबर दी कि स्वीडन की नोबेल समिति ने साहित्य पुरस्कार के लिए उन्हें चुना है.



Advertisement

Comments

Other Story

Advertisement