जर्मनी पर क्लिंटन, केरी की जासूसी का आरोप

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

जर्मनी की ख़ुफ़िया एजेंसी ने अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी और पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन की जासूसी की थी.

जर्मनी से छपने वाली डेर स्पीगल पत्रिका के मुताबिक़ दुर्घटनावश क्लिंटन और केरी की कॉल रिकॉर्ड हो गईं थी और उन्हें तुरंत ही नष्ट भी कर दिया गया था.

केरी ने इन दावों के बाद जर्मनी के विदेश मंत्री फ्रैंक वॉल्टर स्टीनमियर से बात भी की है.

संवाददाताओं के मुताबिक़ इन रिपोर्टों के बाद जर्मनी को शर्मिंदा होना पड़ सकता है.

अमरीका पर जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल की जासूसी के आरोप लग चुके हैं.

डेर स्पीगल के मुताबिक़ ख़ुफ़िया एजेंसी ने 2013 में सैटेलाइट फ़ोन के ज़रिए की गई जॉन केरी की कॉल को रिकॉर्ड किया था.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ सीआईए को सौंपे गए दस्तावेज़ बताते हैं कि जासूसों ने हिलेरी क्लिंटन की बातचीत भी सुनी थी. उस समय क्लिंटन अमरीका की विदेश मंत्री थीं.

हालांकि जर्मन अधिकारियों का कहना है कि ये रिकॉर्डिंग दुर्घटनावश की गई थी. उन्होंने यह भी बताया कि ऐसा सिर्फ़ एक ही बार हुआ.

बर्लिन में अमरीकी दूतावास ने इस मुद्दे पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें