सरोगेट मां बच्चा पालने के लिए हुई मजबूर

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

ऑस्ट्रेलियाई दंपत्ति ने थाईलैंड की एक सरोगेट महिला से अपने बच्चे को लेने से इनकार कर दिया क्योंकि उस बच्चे को डाउन सिंड्रोम था. इस घटना के बाद सरोगेसी (किराए की कोख) से जुड़े अभियानकर्ताओं ने इसके लिए स्पष्ट नियमन की मांग की है.

इस बच्चे के इलाज की सख़्त ज़रूरत है. इस बच्चे की जुड़वा बहनों को अज्ञात दंपत्ति ऑस्ट्रेलिया लेकर चले गए.

थाईलैंड में मौजूद इस सरोगेट मां का कहना है कि वह उस बच्चे का पालन पोषण ख़ुद ही करेंगी और एक ऑनलाइ अभियान के ज़रिए इस बच्चे के इलाज के लिए 185,000 डॉलर राशि जुटाई गई है.

इस मामले की वजह से यह आशंका बढ़ रही है कि ऑस्ट्रेलिया अंतरराष्ट्रीय स्तर की सरोगेसी पर प्रतिबंध लगा सकता है.

गैमी नाम के बच्चे में जन्मजात ह्रदय की परेशानियां, फ़ेफ़ड़े का संक्रमण और डाउन सिंड्रोम है जिसके चलते इस बच्चे का चेहरा सपाट और कद छोटा रहेगा और मानसिक रूप से भी यह बच्चा मंद होगा.

फिलहाल इस बच्चे का इलाज थाईलैंड के अस्पताल में चल रहा है.

उनकी मां पट्टारामोन चानबुआ को ऑस्ट्रेलियाई दंपत्ति ने मां बनने के लिए 15,000 डॉलर का भुगतान किया था.

गर्भावस्था के चार महीने बाद जब डॉक्टरों ने इस बच्चे की स्थिति के बारे में बताया तब इस दंपत्ति ने पट्टारामोन को गर्भपात कराने के लिए कहा था.

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री टोनी एबॉट ने इसे दुखद घटना बताया है.

ऑस्ट्रेलिया में सरोगेसी के लिए भुगतान करना ग़ैरक़ानूनी है इसी वजह से दंपत्ति को किसी ऐसी महिला की तलाश करनी पड़ी जो अपने कोख में उनका बच्चा सिर्फ़ स्वास्थ्य और दूसरे ज़रूरी ख़र्च लेकर पाल ले और इसके अतिरिक्त कोई भुगतान न करना पड़े.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें