Advertisement

siliguri

  • Jul 16 2013 1:31PM

हैरतअंगेज करतब की दीवानगी थी शैलेंद्रनाथ में

हैरतअंगेज करतब की दीवानगी थी शैलेंद्रनाथ में

सिलीगुड़ी: अपनी मूंछों और टिक्की से करतब करने की दीवानगी को दुनिया याद रखेगी. रोमांचक खेल से शैलेंद्र उर्फ टिक्की लाल का जन्म हुआ और इस रोमांच में उसकी मौत. अपने फैन अपने दोस्ट की बीच मरना! सरकार से कोई सम्मान नहीं मिला. लेकिन शहरवासियों के दिल में हमेशा वे जिंदा रहेंगा. बाघ पुल पर व हजारों आंखों में इतना पानी था, जितना शायद उस तीस्ता में भी न हो.

तीस्ता भी इस हैरतअंगेज खेल को देखने के लिए प्यासी थी. एक माह पहले से घोषणा कर चुके थे कि अबकी बार अपना गिनीज वल्र्ड रिकॉर्ड तोड़ूगा. पत्रकारों से मिलकर कहते थे-‘ सबकोई आना देखने! 400 मीटर रोप वे टिक्की से पार करके पार्टी दूंगा’! सबकोई थे! उस देखने के लिए! लेकिन उसे इस हाल में देखकर बस आंखों में पानी था. देशबंधु पाड़ा में यह हैरतअंगेज टीन के घर में रहता था. 2001 में उसने अपनी मूंछों से 20 किलो वजन उठाकर लोगों के बीच मशहूर हुआ.

टीवी सीरियल सुरभि में भी उसे दिखाया गया था. 2001 में ही 100 मिटर मारूती वैन को खिंचात्र 2002 में 407 पुलिस वैन को खिंचा. 2003 में 20 टन का पंजाब बॉडी ट्रक को खिचा. 2006 में अपनी चुटिया से 40 टन का दार्जिलिंग हिमालय रेलवे का ट्राय टेन को खिंचा. 2007 में राजस्थान में दो पहाड़ के बीच 270 मीटर की दूरी तय की. 2011 में फिर टॉय ट्रेन खिंचा. ब्राड कास्टिंग शो के लिए उन्हें साउथ कोरिया भी बुलाया गया था.


Advertisement

Comments

Advertisement