ब्रेक्ज़िट बिल अधर में, सांसदों ने ख़ारिज की टाइमलाइन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
ब्रेक्ज़िट बिल अधर में, सांसदों ने ख़ारिज की टाइमलाइन
Getty Images
बोरिस जॉनसन

ब्रिटेन के सांसदों ने प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के उस प्रस्ताव को ख़ारिज कर दिया जिसमें ब्रेक्ज़िट बिल की तीन दिन के भीतर समीक्षा करने की बात कही गई थी.

हाउस ऑफ़ कॉमंस में सांसदों ने पहले ब्रेक्ज़िट बिल का समर्थन किया लेकिन फिर उसकी समीक्षा के लिए दिए गए कम समय पर उन्होंने विरोध में वोट किया.

इसके पहले ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने चेतावनी दी थी कि अगर सांसद ब्रेक्ज़िट प्लान को नकार देते हैं और यूरोपीय संघ ब्रेक्ज़िट के लिए तय 31 अक्टूबर की डेडलाइन आगे बढ़ा देता है तो वे दोबारा चुनाव करवा सकते हैं.

मंगलवार को सांसदों ने पहले चरण की वोटिंग में ब्रेक्ज़िट बिल का समर्थन किया. इसके पक्ष में 329 और विरोध में 299 वोट पड़े लेकिन इसके कुछ देर बाद दूसरे चरण में उन्होंने इसकी समीक्षा के लिए दिए गए कम वक़्त पर इस बिल को सांसदों ने 308 के मुक़ाबले 322 वोटों से नकार दिया.

वोटिंग के बाद बोरिस जॉनसन ने कहा कि जब तक यूरोपीय संघ अपने इरादे स्पष्ट नहीं कर देता तब तक के लिए वो इस बिल को रोक रहे हैं.

वहीं यूरोपीयन आयोग के एक प्रवक्ता ने कहा, 'आयोग ने आज रात को हुई वोटिंग के नतीजों को देखा है और वो उम्मीद करते हैं कि ब्रिटेन की सरकार अपने अगले कदम के बारे में उन्हें बताएगी.'

बोरिस जॉनसन निराश

बोरिस जॉनसन ने कहा कि वो 'बेहद निराश' हैं क्योंकि सांसदों ने इस डील को और पीछे खिसकाने के लिए वोट दिया है. उन्होंने कहा कि आज के नतीजों से ब्रिटेन में अस्थिरता बढ़ेगी.

साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि उनकी नीति अभी भी यही है कि इस महीने के अंत तक ब्रेक्ज़िट हो जाए. बोरिस जॉनसन ने कहा, 'या तो इस तरह से किसी दूसरे तरीके से, हमें इस समझौते के साथ यूरोपीय संघ को छोड़ना होगा, जिस पर हाउस ने अपनी सहमति भी जताई है.'

लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कोर्बिन ने कहा कि जॉनसन ने अपना दुर्भाग्य खुद ही लिखा है. हालांकि उन्होंने यह प्रस्ताव भी रखा कि अगर संसद में ब्रेक्ज़िट की समीक्षा के लिए पर्याप्त समय दिया जाएगा तो वो इस पर चर्चा के लिए तैयार हैं.

ब्रेक्ज़िट बिल अधर में, सांसदों ने ख़ारिज की टाइमलाइन
AFP
लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कोर्बिन

बोरिस जॉनसन की पिछले हफ़्ते यूरोपीय संघ के नेताओं के साथ नए प्लान पर सहमती बन गई थी, लेकिन साथ ही वो लगातार यह बात दोहराते रहे कि चाहे डील हो या ना हो वो अक्टूबर अंत तक यूरोपीय संघ से अलग हो जाएंगे.

जो बिल बोरिस जॉनसन के प्लान को क़ानून की शक्ल देगा उसे 'विड्रॉल एग्रीमेंट बिल' कहा जा रहा है, यह सोमवार शाम को प्रकाशित हुआ. बोरिस जॉनसन ने इस बिल को हाउस ऑफ़ कॉमंस के सामने पेश किया और उन्हें ब्रेक्ज़िट की डेडलाइन से पहले तीन दिन के भीतर इसकी समीक्षा करने के लिए कहा.

प्रधानमंत्री ने संसद में कहा कि अगर संसद सबकुछ जनवरी तक या उसके आगे तक के लिए बढ़ा देगी तो वो आम चुनाव करवा देंगे.

हाउस ऑफ़ कॉमंस के स्पीकर जॉन बरकॉ ने कहा कि बिल अब अधर में लटक गया है.

ये भी पढ़ेंः

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

]]>

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें