जापान में तूफान ‘हगिबिस'' का कहर, 33 की मौत; PM मोदी ने बचाव अभियान में मदद की पेशकश की

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

तोक्यो/नयी दिल्ली : जापान की राजधानी तोक्यो समेत देश के अन्य हिस्सों में आये प्रचंड तूफान ‘हगिबिस' से अब तक कम-से-कम 33 लोगों की मौत हो चुकी है और एक दर्जन से ज्यादा लोग लापता बताये जा रहे हैं. तूफान हगिबिस ने शनिवार को जापान में दस्तक दी. इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तूफान के कारण लोगों की मौत पर जताया और भारतीय नौसेना कर्मियों द्वारा बचाव अभियानों में मदद करने की पेशकश की.

देश के बड़े हिस्से में भारी बारिश की वजह से आयी बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए रविवार को बड़े पैमाने पर बचाव अभियान शुरू किया गया. भूस्खलन की भी कई घटनाएं हुईं. तूफान तोक्यो को अपनी चपेट में लेने के बाद उत्तर की ओर बढ़ गया. जापान के कई हिस्से जलमग्न हो चुके हैं. ‘हगिबिस' का अर्थ ‘रफ्तार' है. रिपोर्ट के मुताबिक, इस तूफान में कम-से-कम 33 लोगों की मौत हो गयी. राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता एनएचके ने बताया कि आपदा में एक दर्जन से अधिक लोग लापता हो गये और 100 से अधिक लोग घायल हो गये. हगिबिस से प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है. वहीं, देश की 14 नदियों में बाढ़ आ गयी है.

सरकारी प्रवक्ता योशीहिद सुगा ने बताया, इस भीषण तूफान ने पूर्वी जापान में भारी तबाही मचायी है. अधिकारियों ने चेतावनी दी कि भूस्खलन का खतरा अभी भी बना हुआ है. तोक्यो क्षेत्र में ट्रेन सेवाएं, जिनमें से अधिकांश रुकी हुई थीं, सुबह फिर से शुरू हो गयी. हालांकि अन्य की सुरक्षा जांच चल रही थी और उनके दिन में बाद में शुरू होने की उम्मीद है. सत्तारूढ़ पार्टी के नेता फुमियो किशिदा ने एनएचके टीवी न्यूज से टॉक शो में कहा, खतरा अभी भी बना हुआ है और यह एक वास्तविकता है जिससे हमें सतर्क रहना चाहिए. हमें अपनी पूरी कोशिश करनी चाहिए. आपदा कभी भी आ सकती है.

सरकारी आदेशों के तहत लगभग 27,000 पुलिस कर्मी और सैनिक बचाव कार्यों में लगाया गया है. सैनिक हेलीकॉप्टर से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रहे हैं. हजारों लोगों को प्रभावित क्षेत्रों से निकाला गया. ‘क्योदो न्यूज' ने बताया कि 60 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की चेतावनी जारी की गयी थी. तूफान की वजह से रग्बी वर्ल्ड कप के कई मैच रद्द कर दिये गये. कई मैचों के समय को आगे बढ़ा दिया गया.

इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तूफान के कारण लोगों की मौत पर जताया और भारतीय नौसेना कर्मियों द्वारा बचाव अभियानों में मदद करने की पेशकश की. भारतीय नौसेना कर्मी जापान की पहले से तय यात्रा पर हैं. मोदी ने भरोसा जताया कि जापान के लोग अपनी तैयारी और जुझारू क्षमता से इस आपदा के असर से प्रभावी तथा तेजी से निपटने में सक्षम होंगे. मोदी ने जापानी और अंग्रेजी भाषा में किये सिलसिलेवार ट्वीट्स में कहा, मैं जापान में शक्तिशाली तूफान हगिबिस के कारण लोगों की मौत पर सभी भारतीयों की ओर से शोक व्यक्त करता हूं. मैं कामना करता हूं कि इस प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान और तबाही की भरपाई जल्द हो. मोदी ने कहा कि उन्हें भरोसा है कि जापान के लोग अपनी तैयारी और जुझारू क्षमता तथा प्रधानमंत्री शिंजो एबे के नेतृत्व की बदौलत इस आपदा के असर से प्रभावी तथा तेजी से निपटने में सक्षम होंगे. मोदी ने एबे को अपना मित्र बताया. मोदी ने ट्वीट किया, भारत इस मुश्किल घड़ी में जापान के साथ एकजुटता से खड़ा है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें