इमरान खान ने सऊदी अरब के शहजादे से की कश्मीर के हालात पर चर्चा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

जेद्दा/इस्लामाबाद : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बृहस्पतिवार को जेद्दा में सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की और उन्हें भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त किये जाने के बाद राज्य के हालात के बारे में बताया.

खान सऊदी अरब की दो दिवसीय यात्रा पर जेद्दा पहुंचे. सऊदी अरब पाकिस्तान का करीबी सहयोगी है और आर्थिक संकट में उसे वित्तीय सहायता दे रहा है. पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के आधिकारिक ट्विटर खाते से जारी बयान में पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के नयी दिल्ली के फैसले के बाद कश्मीर में भारत सरकार द्वारा अत्याचार किये जाने का आरोप लगाया गया और बताया गया कि खान ने इस बारे में सऊदी के शहजादे से बातचीत की.

प्रधानमंत्री खान कश्मीर के मुद्दे पर सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान के साथ नियमित संपर्क में हैं. रियाद ने भी अपने विदेश राज्य मंत्री आदिल बिन अहमद अल जुबैर को इस महीने की शुरुआत में इस्लामाबाद भेजा था. भारत और पाकिस्तान के बीच तनावपूर्ण हालात को शांत करने के मकसद से उन्हें भेजा गया था.

भारत ने पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त कर दिया था जिसके बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया था. पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय रंग देने की कोशिश कर रहा है, लेकिन भारत ने साफ कर दिया है कि अनुच्छेद 370 को समाप्त करना उसका आंतरिक मामला है. नयी दिल्ली ने इस्लामाबाद से भारत विरोधी बयान देना भी बंद करने को कहा है. इस्लामाबाद में प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा कि सऊदी के शहजादे के साथ मुलाकात में खान ने सऊदी अरब में तेल संयंत्रों पर हाल ही में हुए हमलों की भी निंदा की. बयान के अनुसार, आपसी हितों और द्विपक्षीय संबंधों के मुद्दों पर इस मुलाकात में चर्चा की गयी.

सऊदी की सरकारी प्रेस एजेंसी की खबर के अनुसार, इससे पहले जेद्दा के रॉयल टर्मिनल पर मक्का के गवर्नर खालिद बिन फैसल अल सऊद तथा सऊदी अरब के विदेश मंत्री डॉ इब्राहिम अल आसफ ने खान की अगवानी की. खान के साथ 11 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल गया है जिनमें विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और वित्त पर सलाहकार अब्दुल हाफिज शेख शामिल हैं. सऊदी अरब के नेताओं से बातचीत के बाद खान न्यू यॉर्क के लिए रवाना होंगे जहां वह संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र में भाग लेंगे. उन्होंने वहां कश्मीर मुद्दा उठाने की बात कही है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें