22 साल से उजड़े क़स्बे में अकेले रहकर ''चांदी कूटने वाला'' शख़्स

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रॉबर्ट लुइस डेस्माराइज़ अमरीका केकैलिफ़ोर्निया के उजड़े हुए क़स्बे'थेरो गोर्डो' के एकमात्र निवासी हैं, जहां वो पिछले 22 साल से चांदी तलाश रहे हैं.

70 साल के पूर्व स्कूल टीचर रॉबर्ट स्कूल की छुट्टियों के दिनों में चांदी के अयस्क की तलाश में दूर-दराज़ इलाकों में जाते थे. लेकिन बाद में भीड़भाड़ से अलग, वो वहीं रहने लगे.

थेरो गोर्डो का स्पैनिश में मतलब है- सपाट पहाड़. कैलिफ़ोर्निया में यहां कभी सबसे उत्पादक चांदी की खदान हुआ करती थी.

रॉबर्ट कहते हैं, "लॉस एंजलस को बनाने में इसने काफ़ी मदद की." उन्हें लगता है कि यहां अभी भी पर्याप्त मात्रा में चांदी है.

22 साल से उजड़े क़स्बे में अकेले रहकर ''चांदी कूटने वाला'' शख़्स
Vivian Sacks
रॉबर्ट

वो कहते हैं, "पिछले 22 सालों में मुझे एक पहिये की ठेला गाड़ी के बराबर सिल्वर मिला है."

फ़िलहाल वो इन अयस्क के टुकड़ों को 5 से 20 डॉलर के बीच यहां आने वाले पर्यटकों को बेचते हैं.

रॉबर्ट को किसी ने एक केबिन दे दिया था जिसमें कभी एक खनिक विलियम हंटर रहा करते थे. वो अब यहीं रहते हैं जो पहाड़ी पर 8,200 फ़ुट की उंचाई पर स्थित है.

इसीलिए रॉबर्ट को पूरी घाटी का नज़ारा मिलता है और जब कोई पर्यटक यहां आता है तो वह उन्हें क़स्बे तक पहुंचने से पहले ही दिख जाता है.

मुश्किलें भी हैं

यहां रहना उतना आसान नहीं है. वो कहते हैं कि इतनी उंचाई पर उनकी पत्नी को काफ़ी परेशानी हुई इसलिए अव वो नवाडा में रहती हैं.

जलाने के लिए रॉबर्ट हर दिन लकड़ियां इकट्ठा करते हैं. पहाड़ों में बिजली तो है लेकिन पानी नहीं है. इसलिए वो नज़दीक के एक क़स्बे कीलर से पानी लाते हैं.

कीलर एक समय रेलवे स्टेशन और जीवंत क़स्बा हुआ करता था. पहाड़ों से चांदी का अयस्क पहले कीलर भेजा जाता था और यहां से नाव के ज़रिये ओवन्स झील के पार भेजा जाता था. उसके बाद ट्रेन के ज़रिये उसे लॉस एंजलस भेजा जाता था.

22 साल से उजड़े क़स्बे में अकेले रहकर ''चांदी कूटने वाला'' शख़्स
Brent Underwood

लॉस एंजलस के लिए नहर से पानी ले जाने के कारण झील सूख गई और यहां की आबादी घट कर अब 30 रह गई है.

कीलर से 15 मील दूर एक और क़स्बा है- लोन पाइन. ये वो सबसे क़रीबी जगह है जहां से ज़रूरत का सामान लाया जाता है. यहां कैफ़ै, दुकानें, होटल और बार भी हैं.

रॉबर्ट एकदम अकेले रहते हैं. जब लोग यहां आते हैं तो उन्हें अच्छा लगता है. वो लोगों को थेरो गोर्डो का इतिहास बताते हैं जो 1865 से शुरू होता है.

22 साल से उजड़े क़स्बे में अकेले रहकर ''चांदी कूटने वाला'' शख़्स
Brent Underwood
ब्रेंट अंडरवुड

रॉबर्ट चाहते हैं कि पर्यटकों को चांदी की खदानों की सैर करवाई जाए मगर इस क़स्बे के मौजूदा मालिक एलए एंटरप्रेन्योर्स ब्रेंट अंडरवुड और जान बिएर इसके ख़िलाफ़ हैं. उनका कहना है कि खदानें स्वाभाविक रूप से ख़तरनाक होती है.

पिछले साल जुलाई में इन्होंने 14 लाख डॉलर में थेरो गोर्डो को ख़रीदा था. उन्हें भी यहां रॉबर्ट डेस्माराइज़ की ही तरह चांदी मिलने की उम्मीद है.

22 साल से उजड़े क़स्बे में अकेले रहकर ''चांदी कूटने वाला'' शख़्स
Brent Underwood

सभी को लगता है कि किसी न किसी दिन चांदी का स्रोत मिल सकता है. हालांकि इस पहाड़ से 50 करोड़ डॉलर मूल्य के मिनरल्स निकाले जा चुके हैं और ऐसी अफ़वाहे हैं कि नीचे अभी इतना ही मिनरल और है.

क़स्बे के मौजूदा मालिक कहते हैं, "जबसे ये क़स्बा बसा है, तबसे ये सपनों की जगह बनी हुई है. इतने समय बाद भी कुछ लोग सोचते हैं कि अभी यहां बहुत कुछ हो सकता है."

22 साल से उजड़े क़स्बे में अकेले रहकर ''चांदी कूटने वाला'' शख़्स
Brent Underwood
ब्रेंट अंडरवुड

ब्रेंट अंडरवुड और जॉन बिएर

नए मालिक चाहते हैं कि अब क़स्बे में फिर से ज़िंदगी लौटे इसीलिए उन्होंने रात में ठहरने की व्यवस्था की है. उन्होंने इसके लिए सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म रेडिट का सहारा लिया. ये सलाह लेने के लिए कि यहां और क्या कुछ किया जाना चाहिए.

एक व्यक्ति ने वहां सिनेमा हॉल बनाने का सुझाव दिया. वैसे थेरो गोर्डो में एक गिरजाघर है जिसमें एक प्रोजेक्टर की व्यवस्था है. नए मालिक इस स्क्रीन का इस्तेमाल अलग-अलग फ़िल्में दिखाने के लिए करने की योजना बना रहे हैं.

किसी ने सुझाव दिया कि अंगूर की खेती करें और बकरी पालन करें.

22 साल से उजड़े क़स्बे में अकेले रहकर ''चांदी कूटने वाला'' शख़्स
Brent Underwood

पिछले मालिक ने रॉबर्ट को ज़िम्मेदारी थी कि वो इस क़स्बे का ख्याल रखें, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया था. नए मालिकों ने भी उन्हें केयर टेकर बना दिया है.

वो अपने तरीक़े से इस जगह का ख़्याल रखते हैं और लोग जो कचरा छोड़ जाते हैं, उसे ठिकाने लगाते हैं.

इंस्टाग्राम पर एक यूज़र ने लिखा है, "थेरो गोर्डो हिल पर हमेशा नज़र बनाए रखने के लिए रॉबर्ट आपको थैंक्यू! मैं आग जलाकर तारों भरे आसमान के नीचे बैठना चाहता हूं और रॉबर्ट की कहानियां सुनना चाहता हूं."

22 साल से उजड़े क़स्बे में अकेले रहकर ''चांदी कूटने वाला'' शख़्स
Brent Underwood

हालांकि रॉबर्ट को ये टिप्पणी देखने को नहीं मिली क्योंकि उनके पास कम्प्यूटर नहीं है.

वो कहते हैं, "मैं पुराने ज़माने का हूं. मैं जानवरों को पसंद करता हूं, एडवेंचर और सुंदर तारे मुझे पसंद हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

]]>

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें