ममता बनर्जी के भतीजे ने नरेंद्र मोदी को भेजा मानहानि का नोटिस: प्रेस रिव्यू

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
ममता बनर्जी के भतीजे ने नरेंद्र मोदी को भेजा मानहानि का नोटिस: प्रेस रिव्यू
AFP

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मानहानि का नोटिस भेजा है.

अभिषेक बनर्जी का आरोप है कि पीएम मोदी ने 15 मई को पश्चिम बंगाल के डायमंड हार्बर में आयोजित एक जनसभा में उनके ख़िलाफ़ अपमानजनक टिप्पणी की थी. अभिषेक ने अपने लिए निंदनीय और झूठे कहे जाने को लेकर पीएम मोदी से बिना शर्त 36 घंटे के भीतर माफ़ी चाहते हैं.

अभिषेक बनर्जी डायमंड हार्बर से सांसद हैं और पीएम नरेंद्र मोदी ने 15 मई को वहां से एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि 'बुआ-भतीजा सरकार' (ममता-अभिषेक) ने बंगाल को बदनाम कर दिया है. साथ ही कहा था कि लूट-पाट से लेकर हिंसा फैलाने में भी इन लोगों ने कोई कसर नहीं छोड़ी है.

तीसरे मोर्चे की कोशिशें

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को लखनऊ में बहुजन समाज पार्टी यानी बसपा प्रमुख मायावती से मुलाकात की.

इससे पहले उन्होंने समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव से भी मुलाकात की थी. 23 मई को आने वाले चुनावी नतीजों के मद्देनज़र इस मुलाकात को काफी अहम माना जा रहा है.

चंद्रबाबू नायडू ने इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से भी मुलाकात की थी. नायडू ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार, लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव से भी मुलाकात की. नायडू लोकसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद बनने वाली संभावनाओं को लेकर विभिन्न पार्टियों के शीर्ष नेताओं से मिल रहे हैं.

वाइस एडमिरल की याचिका ख़ारिज

इकोनॉमिक टाइम्स के मुताबिक रक्षा मंत्रालय ने अगले नौसेना प्रमुख के रूप में वाइस एडमिरल करमबीर सिंह की नियुक्ति को चुनौती देने वाली वाइस एडमिरल बिमल वर्मा की याचिका शनिवार को ख़ारिज कर दी.

वर्मा ने अपनी याचिका में कहा था कि उनकी वरिष्ठता को नजरअंदाज़ कर सिंह को नौसेना प्रमुख नियुक्त किया जा रहा है.

अधिकारियों के अनुसार, अपने आदेश में रक्षा मंत्रालय ने कहा कि नियुक्ति तय नियमों के तहत हुई है और वरिष्ठता एकमात्र मानदंड नहीं हो सकती है. वाइस एडमिरल सिंह की नियुक्ति को वर्मा ने सैन्य ट्राइब्यूनल में चुनौती दी थी. इस पर ट्राइब्यूनल ने 26 अप्रैल को रक्षा मंत्रालय से कहा कि वह तीन सप्ताह के भीतर वर्मा की अर्जी पर फ़ैसला करे.

अधिकारियों के अनुसार, वर्मा की अर्जी के जवाब में रक्षा मंत्रालय ने कहा कि अगले नौसेना प्रमुख के चयन के लिए सही मानदंडों का पालन किया गया और याचिका दायर करने वाला व्यक्ति शीर्ष पद के लिए अयोग्य पाया गया.

माया का मोदी पर हमला

ममता बनर्जी के भतीजे ने नरेंद्र मोदी को भेजा मानहानि का नोटिस: प्रेस रिव्यू
Getty Images

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक मायावती ने सातवें चरण की पूर्व संध्या पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सोशल मीडिया की ज़रिए निशाना साधा.

माया ने कहा, "पीएम मोदी का गुजरात मॉडल यूपी के पूर्वांचल की भी अति गरीबी, बेरोज़गारी व पिछड़ेपन को दूर करने में थोड़ा भी सफल नहीं हो सका, जो घोर वादाख़िलाफ़ी है. मोदी योगी की डबल इंजन वाली सरकार ने विकास के बजाय केवल जाति और सांप्रदायिक उन्माद, घृणा और हिंसा ही देश को दिया है, जो अति दुखद"

मायावती ने कहा कि पूर्वांचल के साथ यह वादाख़िलाफ़ी और विश्वासघात तब हुआ है जब पीएम व यूपी के सीएम इसी क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. योगी को तो गोरखपुर ने ठुकरा दिया है तो क्या ऐसे में पीएम मोदी की जीत से ज्यादा वाराणसी में उनकी हार ऐतिहासिक नहीं होगी? क्या वाराणसी 1977 का रायबरेली दोहराएगा?

बीजेपी ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन बताते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के समक्ष शिकायत दर्ज कराई है.

ये भी पढ़ें:

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

>

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें