प्रबंधन में कैरियर के लिए मैट है खास

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

देश में प्रबंधन कोर्स में प्रवेश के लिए कई परीक्षाएं होती हैं. इन्हीं में से एक है मैनेजमेंट एप्टीट्यूट टेस्ट (मैट). यह टेस्ट साल में चार बार आयोजित होता है. यह इस वर्ष तीसरी बार सितंबर माह में होनेवाला है. कैसी है यह परीक्षा, क्यों है खास, क्या है इसका पैटर्न और कैसे करें इसकी तैयारी, ऐसे ही तमाम बिंदुओं पर रोशनी डाल रहा है यह आलेख..

पिछले कुछ दशकों से प्रबंधन के क्षेत्र में युवाओं का खासा रुझान देखा जा रहा है. प्रबंधन के क्षेत्र में दाखिला 12वीं के बाद भी मिलता है. इसके लिए विभिन्न विश्वविद्यालयों से बीबीए में प्रवेश लेना होता है. पिछले शैक्षणिक वर्ष से दिल्ली विश्वविद्यालय ने बैचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (बीएमएस) कोर्स की भी शुरुआत की है (इसके बारे में विस्तार से पढ़ें पेज 2), लेकिन प्रबंधन के क्षेत्र में कैरियर बनाने की दिशा में कुछ परीक्षाएं महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं. प्रबंधन के क्षेत्र में प्रवेश के लिए स्नातक पास विद्यार्थियों के सामने परीक्षाओं के ढेरों विकल्प उपलब्ध हैं. इनमें से प्रमुख हैं - कॉमन एप्टीट्यूट टेस्ट (कैट), मैनेजमेंट एप्टीट्यूट टेस्ट (मैट), कॉमन मैनेजमेंट एडमिशन टेस्ट (सीमैट), जैट आदि. इनमें से मैट एक बहुत पुराने प्रबंधन टेस्ट के रूप में पहचाना जाता है. अगर आप प्रबंधन के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, तो इस टेस्ट के लिए आवेदन कर सकते हैं.

क्या है मैट
मैनेजमेंट एप्टीट्यूड टेस्ट की शुरुआत 1988 में हुई थी. 2003 में भारत सरकार के मानव संस्थान विकास मंत्रलय ने इसे राष्ट्रीय स्तर की परीक्षाओं में शामिल किया. इसके माध्यम से देश के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आइआइएम) में दाखिला मिलता है. इसके अलावा कुछ अन्य प्रबंधन कॉलेजों में भी इसके माध्यम से प्रवेश मिलता है. ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन (एआइएमए) द्वारा आयोजित होनेवाले इस टेस्ट के माध्यम से आवेदक विभिन्न संस्थानों में एमबीए और इससे संबंधित अन्य कोर्सो में प्रवेश प्राप्त कर सकते हैं. मैनेजमेंट के क्षेत्र में इस टेस्ट में सबसे ज्यादा विद्यार्थी भाग लेते हैं. इस दृष्टि से यह मैनेजमेंट का सबसे बड़ा टेस्ट है. देश में फिलहाल 600 से अधिक संस्थान मैट के स्कोर को स्वीकारते हैं. मैट एक और नजरिये से भी प्रबंधन की खास परीक्षा है. वो ये कि यह परीक्षा वर्ष में चार बार आयोजित की जाती है. इसे फरवरी, मई, सितंबर और दिसंबर माह में आयोजित किया जाता है.

क्या है योग्यता
इस परीक्षा में हिस्सा लेने के लिए आवेदकों का स्नातक होना अनिवार्य है. स्नातक के अंतिम वर्ष के छात्र भी इस परीक्षा में हिस्सा ले सकते हैं. इसके लिए उम्र की कोई सीमा नहीं है. हां, मैट स्कोर को स्वीकारनेवाले संस्थानों में उम्र संबंधी योग्यता हो सकती है.

आवेदन का जानें तरीका
इस परीक्षा में आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों से कर सकते हैं. आवेदन के समय फीस तीन माध्यमों से जमा की जा सकती है. पहला ऑफलाइन, दूसरा क्रेडिट और

डेबिट कार्ड एवं तीसरा डिमांड ड्राफ्ट के माध्यम से. ऑफलाइन माध्यम से जमा करने के लिए 1,200 रुपये का डिमांड ड्राफ्ट बनवाना होगा. यह ‘ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन’ के पक्ष में दिल्ली को देय होगा. दोनों माध्यमों से आवेदन शुल्क 1,200 रुपये ही लगेगा.

कुछ जरूरी जानकारियां

आवेदन फॉर्म बिक्री की अंतिम तिथि : 23 अगस्त, 2014.

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि : 23 अगस्त, 2014.

ऑफलाइन माध्यम से आवेदन फॉर्म जमा करने की अंतिम तिथि : 25 अगस्त, 2014.

आवेदन शुल्क जमा करने की अंतिम तिथि : 25 अगस्त, 2014.

पेपर पेन बेस्ड परीक्षा की तिथि : 7 सितंबर, 2014.

कंप्यूटर बेस्ड परीक्षा की तिथि : 13 सितंबर, 2014 से होगी शुरुआत.

पता : ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन, मैनेजमेंट हाउस, 14, इंस्टीट्यूशनल एरिया, लोधी रोड, नयी दिल्ली. 110003

फोन : 011 47673037/ 47673026/ 24638896

ऑनलाइन आवेदन करने का लिंक : //apps.aima.in/matsept14

वेबसाइट : http://www.aima.in/te sting-services/mat/mat.html

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें