बीटेक ह्यूमेनिटीज में ले सकते है प्रवेश

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बीटेक ह्यूमेनिटीज, सुन कर कुछ अटपटा-सा लगता है, लेकिन अलग तरह के कोर्स कराने के लिए प्रसिद्ध दिल्ली विश्वविद्यालय ने दो वर्ष पहले इस तरह के नये कोर्स को जन्म दिया था. यह कोर्स क्लस्टर इनोवेटिव प्रोग्राम के तहत शुरू किया था, इसी के चलते यह कोर्स क्लस्टर इनोवेटिव सेंटर में चलाया जाता है. कुछ ही दिनों में इस कोर्स के लिए आवेदन प्रक्रिया की शुरुआत होनेवाली है. बीटेक ह्यूमेनिटीज का कोर्स मेटा कॉलेज की अवधारणा पर चल रहा है, जिसमें छात्रों को विश्वविद्यालय के अलग-अलग कॉलेजों में क्लास करने का मौका मिलता है.

क्या है मेटा यूनिवर्सिटी का कांसेप्ट
क्लस्टर इनोवेटिव सेंटर में चलाये जानेवाले मेटा यूनिवर्सिटी के तहत आनेवाले कोर्सो में दाखिला लेकर छात्र चाहे तो जर्नलिज्म की पढ़ाई एलएसआर में कर सकते हैं या फिर टूरिज्म की पढ़ाई कॉलेज ऑफ वोकेशनल स्टडीज में कर सकते हैं. इसमें छात्रों को मनमुताबिक कोर्स डिजाइन करने का भी मौका दिया गया है. वे दाखिला पाकर स्पेश्लाइजेशन में हिस्टोरिकल टूरिज्म पढ़ सकते हैं या जर्नलिज्म और काउंसिलिंग की राह पर भी चल सकते हैं.

कैसे मिलेगा प्रवेश का मौका
क्लस्टर इनोवेशन सेंटर में मेटा यूनिवर्सिटी के तहत चलाये जानेवाले बीटेक ह्यूमेनिटीज में बारहवीं पास छात्रों को तब दाखिले का मौका मिलेगा, जब वे दिल्ली विश्वविद्यालय के किसी कॉलेज, नॉन-कॉलेजिएट वीमेंस एजुकेशन बोर्ड या स्कूल ऑफ ओपन लर्निग में दाखिला ले चुके होंगे. इनमें से किसी एक में दाखिला लेनेवाले छात्रों को ही ह्यूमिनिटीज में बीटेक जैसा अनूठा कोर्स करने का अवसर मुहैया कराया जा रहा है.

प्रवेश परीक्षा में उन्हीं छात्रों को बैठने का मौका मिलेगा, जिनके 12वीं में कम से कम बेस्ट फोर विषय में 60 फीसदी अंक हों. इन चार विषयों में गणित अनिवार्य है. जो छात्र दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेजों में द्वितीय और तृतीय वर्ष में जानेवाले हैं, वे भी चाहें तो आवेदन कर सकते हैं. लेकिन ध्यान रहे, आवेदन फार्म के साथ प्रमाण पेश करने होंगे कि वे दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र हैं.

कैसा है यह कोर्स
क्लस्टर इनोवेशन सेंटर में चल रहे इस कोर्स में पढ़ाई के साथ उद्योग जगत से इंटरेक्शन करते हुए छात्रों को नयी-नयी चीजें सिखायी जाती हैं. कोर्स में प्रोजेक्ट को भी शामिल किया गया है. इस कोर्स में 40 सीटें हैं. चार साल का यह कोर्स आठ सेमेस्टर में बंटा है. इसमें हर एक सेमेस्टर में थ्योरी के साथ-साथ प्रैक्टिकल पर विशेष जोर दिया गया है. कोर्स में विभिन्न सेमेस्टर में इंटरेक्टिव लर्निग मॉड्यूल्स बनाये गये हैं. इसमें प्रोजेक्ट का भी काम है.

कैसे करें आवेदन
इस कोर्स में प्रवेश के लिए आवेदन फॉर्म को दिल्ली विश्वविद्यालय की वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है. फॉर्म के साथ छात्रों को 500 रुपये का ड्राफ्ट ‘रजिस्टार, दिल्ली विश्वविद्यालय’ के पक्ष में देना होगा. अनुसूचित जाति/ जनजाति वर्ग के छात्र को 250 रुपये का शुल्क देना है.

परीक्षा पद्धति
बीटेक ह्यूमेनिटीज में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा एक घंटे की होती है. इसमें एप्टीट्यूट टेस्ट, लॉजिकल रीजनिंग, सामान्य योग्यता, भाषा कौशल से जुड़े सवाल पूछ जाते हैं. प्रश्नपत्र का वस्तुनिष्ठ प्रकार है. परीक्षा के लिए अंगरेजी और हिंदी दोनों माध्यम रखा गया है. विद्यार्थी अपनी सुविधानुसार किसी भी माध्यम में परीक्षा दे सकता है. पढ़ाई भी दोनों माध्यम में से किसी एक माध्यम में कर सकता है. यह मेटा कॉलेज की अवधारणा पर आधारित कोर्स है, जिसमें कक्षाएं विभिन्न कॉलेजों में लगायी जाती है.

चयन प्रक्रिया
दाखिला लेने के लिए प्रवेश परीक्षा और फिर साक्षात्कार से गुजरना होगा. दोनों चरणों के बाद छात्रों को मेरिट लिस्ट के आधार पर दाखिला मिलेगा. लिखित परीक्षा का वेटेज 75 फीसदी है. इसके अलावा साक्षात्कार का वेटेज 25 फीसदी है. दाखिले के इच्छुक छात्र दिल्ली विश्वविद्यालय के नार्थ कैंपस में स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स स्थित क्लस्टर इनोवेशन सेंटर कार्यालय से दाखिले की प्रक्रिया के बारे में पूरी जानकारी ले सकते हैं.

मुख्य जानकारी

आवेदन की शुरुआत : 24 जून, 2014

आवेदन की अंतिम तिथि : 24 जुलाई, 2014

परीक्षा तिथि : 27 जुलाई, 2014

वेबसाइट : http://backstage.ducic.ac.in/

आवेदन के लिए लिंक : http://ducic.ac.in/Apply

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें