1. home Home
  2. national
  3. jyotiraditya scindia starts krishi udaan 20 scheme for farmers of hilly and tribal areas mtj

Krishi UDAN 2.0: दरभंगा, रांची समेत देश के कई हिस्सों में बनेंगे टर्मिनल, ज्योतिरादित्य सिंधिया का ऐलान

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि किसानों के उत्पाद को एक जगह से दूसरी जगह जल्द से जल्द पहुंचाने की भी व्यवस्था कर रही है, ताकि कृषि उत्पाद नष्ट न हों.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Krishi UDAN 2.0 Scheme का ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया आगाज
Krishi UDAN 2.0 Scheme का ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया आगाज
PTI

Krishi UDAN 2.0: पहाड़ी राज्यों और आदिवासी बहुल क्षेत्रों के किसानों के हित में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने ‘कृषि उड़ान 2.0 स्कीम’ की शुरुआत की है. सिविल एविएशन मिनिस्टर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को इस योजना की शुरुआत की. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी की सरकार का लक्ष्य किसानों की आय को दोगुना करना है. किसान की आय दोगुना करने का यह मतलब नहीं है कि बाजार में उत्पाद की कीमतें बढ़ जायें.

श्री सिंधिया ने कहा कि किसानों के उत्पाद को एक जगह से दूसरी जगह जल्द से जल्द पहुंचाने की भी व्यवस्था कर रही है, ताकि कृषि उत्पाद नष्ट न हों. सरकार ने कृषि उड़ान 2.0 की शुरुआत की है, ताकि जल्द नष्ट होने वाले सामानों को कम समय में एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाया जा सके. इससे सामान की बर्बादी भी कम होगी और ताजा सामान बेचकर किसान ज्यादा मुनाफा भी कमा सकेगा.

उन्होंने कहा कि जो सामान पहले एक दिन या दो दिन में एक राज्य से दूसरे राज्य में पहुंचता है, अब कुछ घंटों में पहुंच जायेगा. इससे उपभोक्ता और किसान दोनों लाभान्वित होंगे. सिविल एविएशन मिनिस्टर ने यह भी कहा कि कृषि उड़ान 2.0 योजना की शुरुआत के बाद सुदूर क्षेत्रों में सामानों को जल्द से जल्द पहुंचाने में भी मदद मिलेगी.

श्री सिंधिया ने कहा है कि 53 एयरपोर्ट से किसानों के सामान की आवाजाही शुरू हो जायेगी. कहा कि कृषि उड़ान 2.0 योजना की शुरुआत होने से कृषि उत्पादों एवं खाद्यान्न की बर्बादी कम होगी. उन्होंने कहा कि कृषि उड़ान योजना 2.0 के तहत घरेलू एयरलाइंस के लिए नागर विमानन मंत्रालय लैंडिंग, पार्किंग, टर्मिनल नेविगेशन और लैंडिंग चार्ज में पूरी छूट देगा.

कई टर्मिनल बनाये जायेंगे

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि लेह, श्रीनगर, नागपुर, नासिक, रांची, बागडोगरा, रायपुर और गुवाहाटी में मंत्रालय की ओर से टर्मिनल बनाये जायेंगे. उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया की ओर से संचालित 53 एयरपोर्ट का चयन किया है, जो कृषि उड़ान 2.0 के तहत कवर किये जायेंगे.

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया कि इस योजना के तहत 8 घरेलू और अंतरराष्ट्रीय व्यापार रूट्स की भी शुरुआत की जायेगी. इसमें बेबी कॉर्न की ढुलाई के लिए अमृतसर-दुबई, लीची के परिवहन के लिए दरभंगा को देश के अन्य एयरपोर्ट्स से और जैविक खाद्य उत्पादों की ढुलाई के लिए सिक्कम से पूरे देश भर के लिए उड़ान शुरू की जायेगी.

सरकार चेन्नई, विजाग और कोलकाता से पूर्वी एशियाई देशों को सी फूड्स भेजने के लिए उड़ान शुरू करेगी. अनन्नास के लिए अगरतला-दिल्ली-दुबई, मंदारिन नारंगी के लिए डिब्रूगढ़-दिल्ली-दुबई और दाल, फल एवं सब्जियों के लिए गुवाही से हांगकांग के लिए व्यापारिक उड़ान की शुरुआत भी की जायेगी.

राज्य सरकारों से कहा- सेल्स टैक्स घटायें

कृषि उड़ान 2.0 की शुरुआत करते हुए श्री सिंधिया ने राज्य सरकारों से आग्रह किया कि वे एविएशन टरबाईन फ्यूल (एटीएफ) पर लगने वाले सेल्स टैक्स में 1 फीसदी की कमी करें. उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया अगरतला, श्रीनगर, डिब्रूगढ़, दीमापुर, हुबली, इंफाल, जोरहाट, लीलाबाड़ी, लखनऊ, सिलचर, तेजपुर, तिरुपति और तुतिकोरिन में वर्ष 2021-22 में एक हब और स्पोक मॉडल तैयार करेगी.

एविएशन मिनिस्टर सिंधिया ने कहा कि वर्ष 2022-23 में उनका मंत्रालय खराब होने वाले उत्पादों के लिए अहमदाबाद, भावनगर, झारसुगुड़ा, कोझिकोड, मैसुरु, पुडुचेरी, राजकोट और विजयवाड़ा में हब और स्पोक मॉडल तैयार करेगा, तो वर्ष 2023-24 में आगरा, दरभंगा, गया, ग्वालियर, पेक्योंग, पंतनगर, शिलांग, शिमला, उदयपुर और बड़ोदरा में और वर्ष 2024-25 में होलांगी और सलेम में ऐसे ही हब और स्पोक मॉडल्स तैयार किये जायेंगे.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें