1. home Hindi News
  2. national
  3. indian raiway latest news six pairs of additional special trains pertaining to western railways will be resumed from 12th september avd

Indian Railways News : अनलॉक 4 में रेलवे ने दी नई खुशखबरी, 12 सितंबर से चलेंगी 6 जोड़ी और विशेष ट्रेनें, जानें रूट और रिजर्वेशन

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Indian Railways/IRCTC News : कोरोना संकट के बीच पश्चिम रेलवे 12 सितंबर से छह जोड़ी विशेष ट्रेन चलाने की तैयारी कर रहा है.
Indian Railways/IRCTC News : कोरोना संकट के बीच पश्चिम रेलवे 12 सितंबर से छह जोड़ी विशेष ट्रेन चलाने की तैयारी कर रहा है.
twitter

नयी दिल्ली : कोरोना संकट के बीच पश्चिम रेलवे (Indian Railways) 12 सितंबर से छह जोड़ी विशेष ट्रेन चलाने की तैयारी कर रहा है. जनसंपर्क अधिकारी ने बताया, 12 सितंबर से पश्चिम रेलवे से संबंधित छह जोड़ी अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनें फिर से शुरू की जाएंगी. शनिवार को रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वी के यादव ने बताया था कि 12 सितंबर से 80 नयी विशेष ट्रेनें चलेंगी. इसके लिए आरक्षण अगले बृहस्पतिवार से शुरू होगा. उन्होंने कहा कि बुलेट ट्रेन परियोजना के पूरा होने की वास्तविक समय-सीमा के बारे में अगले तीन से छह महीने में स्थिति स्पष्ट होगी.

ये ट्रेनें 230 ट्रेनों के अतिरिक्त होंगी

ये ट्रेनें पहले से ही चल रही 230 ट्रेनों के अतिरिक्त होंगी. यादव ने कहा कि रेलवे वर्तमान में संचालित सभी ट्रेनों की निगरानी कर पता लगाएगा कि किन ट्रेनों में प्रतीक्षा सूची लंबी है. रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा, विशेष ट्रेन के लिए जब भी जरूरत होगी, जहां भी प्रतीक्षा सूची लंबी होगी, हम मूल ट्रेन के बाद उसी तरह की (क्लोन) ट्रेन चलाएंगे ताकि यात्री उसमें यात्रा कर सकें.

प्रवासियों का रखा गया ख्याल

यादव ने कहा कि 80 नयी ट्रेनों पर फैसला करने में इस तथ्य को भी ध्यान में रखा गया कि कई स्टेशन हैं जहां से प्रवासी कामगार अपने कार्यस्थल पर वापस जा रहे हैं. उन्होंने कहा, हम मांग के हिसाब से और ट्रेनें चलाएंगे. संचालित हो रही 230 ट्रेनों में से 12 में यात्रियों की संख्या कम है. हम उन्हें चला रहे हैं लेकिन डिब्बों की संख्या घटाएंगे. यादव ने कहा कि रेलवे नयी ट्रेनें शुरू करने को लेकर राज्य सरकारों के साथ तालमेल कर रहा है.

बुलेट ट्रेन परियोजना पर यादव ने कहा कि इसमें अच्छी प्रगति हुई है और इसके पूरा होने की वास्तविक समय सीमा का अगले तीन से छह महीने में पता चलेगा, जब भूमि अधिग्रहण की स्थिति स्पष्ट हो जाएगी. यादव ने कहा कि बुलेट ट्रेन जैसी बड़ी परियोजना में काम तब शुरू हो सकता है जब निश्चित मात्रा में जमीन उपलब्ध हो.

उन्होंने कहा, हमें उम्मीद है कि अगले तीन से छह महीने में हम उस बिंदु पर पहुंच पाएंगे. डिजाइन तैयार है और हम आगे बढ़ने वाले हैं. यह सच है कि कोरोना वायरस महामारी के कारण निविदा और भूमि अधिग्रहण में कुछ देरी हुई है लेकिन मैं कह सकता हूं कि परियोजना में अच्छी प्रगति हुई है.

Posted By - Arbind Kumar Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें