1. home Hindi News
  2. life and style
  3. jan aushadhi diwas on 7 march know its importance and history pradhan mantri bhartiya janaushadhi pariyojana sry

Jan Aushadhi Diwas 2022: आज है जन औषधि दिवस, स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति जागरुकता फैलाने का है उद्देश्य

7 मार्च को देश भर में जन औषधि दिवस (Jan Aushadhi Diwas) मनाया जाता है. इसका उद्देश्य देश के लोगों को जेनरिक दवाओं (Generic Medicines) के प्रति जागरुकता और विश्वास पैदा करना है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jan Aushadhi Diwas 2022
Jan Aushadhi Diwas 2022
Prabbat Khabar Graphics

Jan Aushadhi Diwas 2022: आज यानी 7 मार्च को भारत भर में जन औषधि दिवस (Jan Aushadhi Diwas) मनाया जा रहा है. इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य देश के लोगों को जेनरिक दवाओं (Generic Medicines) के प्रति जागरुकता और विश्वास पैदा करना है.

Jan Aushadhi Diwas 2022: मुख्य आयोजन 7 मार्च को

मुख्य कार्यक्रम “जन औषधि दिवस” आज यानी सोमवार 7 मार्च, 2022 को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित किया जाएगा. केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया और रसायन तथा उर्वरक राज्यमंत्री भगवंत खूबा इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे. सभी को उचित मूल्य पर गुणवत्ता संपन्न जेनेरिक औषधियां उपलब्ध कराने के उद्देश्य से नवंबर 2008 में रसायन तथा उर्वरक मंत्रालय के फार्मास्युटिकल्स विभाग द्वारा प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना (पीएमबीजेपी) लॉन्‍च की गई.

Jan Aushadhi Diwas 2022: 5 साल पहले की गई थी इस योजना की घोषणा

प्रधानमंत्री जनऔषधि योजना भारत के प्रधानमंत्री ‪नरेन्द्र मोदी द्वारा 1 जुलाई 2015 को घोषित एक खास योजना है. इस योजना में सरकार द्वारा उच्च गुणवत्ता वाली जेनरिक (Generic) दवाइयां बाजार मूल्य से कम कीमत पर उपलब्ध कराई जाती हैं. इसके लिए सरकार द्वारा 'जन औषधि स्टोर' बनाए गए हैं, जहां जेनरिक दवाइयां उपलब्ध करवाई जाती हैं.

Jan Aushadhi Diwas 2022: जनऔषधि दुकानों की संख्या में हुई बढ़ोत्तरी

जनवरी 2022 तक, इस योजना के तहत दुकानों की संख्या बढ़कर 8675 हो गई है. PMBJK के उत्पाद समूह में 240 सर्जिकल उपकरण और 1451 दवाएं शामिल हैं. नए न्यूट्रास्युटिकल उत्पाद और दवाएं जैसे माल्ट बेस्ड फूड सप्लीमेंट, प्रोटीन पाउडर, इम्युनिटी बार, प्रोटीन बार, मास्क, सैनिटाइजर, ऑक्सीमीटर, ग्लूकोमीटर आदि भी लॉन्च किए गए हैं. तीन आईटी-सक्षम PMBJK गोदाम चेन्नई, गुरुग्राम और गुवाहाटी में काम कर रहे हैं और चौथा सूरत में परिचालन शुरू करने के लिए तैयार है. साथ ही, 39 वितरकों को देश भर में दूरस्थ और ग्रामीण स्थानों पर दवाओं की डिलीवरी में मदद करने के लिए नियुक्त किया गया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें