1. home Hindi News
  2. health
  3. dengue causes symptoms prevention treatment dangerous coronavirus 65 lakh cases reported india 2015 2019 jharkhand bihar bengal latest health tips

5 साल में 6.5 लाख भारतीयों को हुआ डेंगू, जानिए बिहार-झारखंड के लोगों में कितना है खौफ

By SumitKumar Verma
Updated Date
National Dengue Day 2020
National Dengue Day 2020
Prabhat Khabar

National Dengue Day 2020, causes symptoms prevention treatment dangerous like Coronavirus कोरोना वायरस के कारण जहां दुनिया भर में खौफ का माहौल है. इससे अबतक तीन लाख से ज्यादा मौतें हो चुकी है और 4 लाख 58 हजार से ज्यादा लोग प्रभावित हैं. ऐसे में आज नेश्नल डेंगू दिवस के दिन हम आपके सामने कुछ ऐसे आंकड़े पेश करने जा रहे जिससे आपको मालूम चल जाएगा कि कोरोना से कम खतरनाक नहीं है डेंगू.

दरअसल, नेश्नल हेल्थ मिशन के तहत और एनबीडीसीपी (National Vector Borne Disease Control Programme) की वेबसाइट में छपी रिर्पोट के मुताबिक वर्ष 2015-2019 तक केवल भारत में डेंगू के कुल 6 लाख 55 हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. जिसमें करीब 1094 लोगों की इस वायरस के वजह से मौत भी हो गई. आपको बता दें कि यह आंकड़ें 2019 के नवंबर तक की है.

2015-2019 तक किस राज्य में आये सबसे ज्यादा मामले

- वर्ष 2015 में दिल्ली में सर्वाधिक 15867 मामला आया सामने

- वर्ष 2016 में वेस्टबंगाल में 22865 मामले,

- 2017 में भी बंगाल से ही सर्वाधिक मामले सामने आए. यहां कुल 37746 मामले सामने आए

- वहीं, 2018 में पंजाब से सर्वाधिक 14980 मामले सामने आए

- जबकि, वर्ष 2019 में कर्नाटक से सर्वाधिक 15232 मामलों का उजागर हुआ.

2015-2019 तक किस राज्य में आये सबसे ज्यादा मौत के मामले

डेंगू से मौत के मामले वर्ष 2015 में दिल्ली से सर्वाधिक थी. यहां, कुल 60 मौतें हुई थी, जबकि 2016 में बंगाल में 45 मौत, 2017 में महाराष्ट्र और तमिलनाडू में 65-65 मौत, 2018 में महाराष्ट्र में 55 मौत और वर्ष 2019 में सर्वाधिक 25 मौत भी महाराष्ट्र से ही दर्ज की गई थी.

झारखंड में डेंगू

आपको बता दें कि झारखंड में 2015-2018 तक कुल डेंगू के 2492 मामले सामने आए जिसमें सर्वाधिक मामला 2019 में सामने आया और उसके बाद 2017 में. वर्ष 2019 में 803 जबकि 2017 में 710 मामले दर्ज किए गए थे. और मौत की बात की जाए तो बाकि राज्यों के तुलनात्मक यहां कम मौत हुई है. वर्ष 2015 और 2019 में शून्य मौत हुई जबकि सर्वाधिक पांच मौत यहां वर्ष 2017 में दर्ज की गयी.

बिहार में डेंगू

आंकड़ों की मानें तो बिहार में 2015-2019 तक डेंगू से एक भी मौत नहीं हुई है. हालांकि, यहां अभी तक झारखंड की तुलना में करीब 6 गुना ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. जिसमें सर्वाधिक मामला वर्ष 2019 में और उसके बाद वर्ष 2018 में आया. आपको बता दें कि वर्ष 2019 में कुल 6193 जबकि 2018 में 2142 मामले आए थे. वहीं, सबसे कम 1771 मामला वर्ष 2015 में सामने आया था. एनबीडीसीपी वेबसाइट के मुताबिक बंगाल ने वर्ष 2018 व 2019 के आंकड़ें नहीं जारी किए है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें