1. home Home
  2. health
  3. china sending special firecrackers lights to india to cause asthma eye diseases know the truth of mha message mtj

Viral News: दमा, आंख की बीमारी फैलाने वाले पटाखे भेज रहा चीन?

पाकिस्तान के कहने पर ही चीन ने ऐसे पटाखे और बल्ब बनाये हैं, जो लोगों की सेहत बिगाड़ सकते हैं. भारत सरकार की संस्था पीआईबी ने इसका फैक्ट चेक जारी किया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
चीन की नयी साजिश का क्या है सच
चीन की नयी साजिश का क्या है सच
Social Media

Viral News: सीमा पर लगातार तनाव बढ़ाने की कोशिशों में जुटा चीन अब नयी चालबाजी कर रहा है. दीपावली और छठ पर भारत में बड़े पैमाने पर पटाखे छोड़े जाते हैं. इस दौरान प्रदूषण भी तेजी से बढ़ता है. इसी की आड़ में चीन ऐसे पटाखे और बल्ब भारत को निर्यात कर रहा है, जिससे दमा और आंख की बीमारियां बढ़ जायेंगी. पाकिस्तान के कहने पर चीन ने ऐसे पटाखों और बल्ब का निर्यात करना शुरू किया है.

भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने कथित तौर पर यह जानकारी सार्वजनिक की है. यह मैसेज सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है. कहा जा रहा है कि पाकिस्तान को पता है कि वह भारत के साथ कभी भी सीधी लड़ाई न तो लड़ सकता है, न ही जीत सकता है. इसलिए उसने भारत के एक और दुश्मन चीन के साथ अपनी दोस्ती बढ़ायी है और भारत को परेशान करने का आग्रह ड्रैगन से किया है.

पाकिस्तान के कहने पर ही चीन ने ऐसे पटाखे और बल्ब बनाये हैं, जो लोगों की सेहत बिगाड़ सकते हैं. लेकिन, भारत सरकार की संस्था पीआईबी ने इसका फैक्ट चेक जारी किया है. इसमें कहा गया है कि चीन से बीमारी फैलाने वाले विशेष प्रकार के पटाखों और बल्ब के बारे में भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने कोई मैसेज जारी नहीं किया है. यह खबर पूरी तरह से गलत और भ्रामक है.

उल्लेखनीय है कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण ने जिस तरह से दुनिया भर के देशों को अपनी चपेट में लिया, उसके बाद से चीन के प्रति लोगों का नजरिया बहुत खराब हुआ है. चीन को कोरोना वायरस की जन्मस्थली बताया जा रहा है. साथ ही कहा गया है कि चीन ने इस बीमारी की आड़ में अपना व्यापार बढ़ाया. साथ ही ड्रैगन ने इससे जुड़ी जानकारी विश्व स्वास्थ्य संगठन से भी साझा नहीं की.

इसलिए जब सोशल मीडिया में दिवाली से पहले चीन से आने वाले विशेष पटाखों की खबर वायरल हुई, तो लोग बेहद परेशान हो गये. अब पीआईबी फैक्ट चेक के बाद स्पष्ट हो गया है कि ऐसी कोई बात नहीं है, लेकिन पटाखों के शौकीन लोगों को सावधान रहने की जरूरत है. कोरोना संक्रमण के समय प्रदूषण वैसे भी बुजुर्गों और मरीजों के लिए बेहद घातक साबित हो सकता है. इसलिए धुआं फैलाने वाले पटाखों से परहेज करना चाहिए.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें