1. home Hindi News
  2. health
  3. after getting a new variant of corona in singapore the members of niti aayog said the reports are being tested what is the singapore variant ksl

क्या है सिंगापुर वेरिएंट? कोरोना के नये रूप को बच्चों के लिए क्यों माना जा रहा खतरनाक?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
सोशल मीडिया

नयी दिल्ली : कोरोना वायरस के बदलते रूप से दुनिया के देशों में भय है. सिंगापुर में कोरोना वायरस का नया वेरिएंट मिलने के बाद भारत में भी चर्चा शुरू हो गयी है. सिंगापुर के शिक्षा मंत्री चान चुन सिंग ने कहा है कि कोरोना का नया वेरिएंट ज्यादा आक्रामक है. यह छोटे बच्चों पर ज्यादा प्रभाव डाल रहा है. हालांकि, उन्होंने संक्रमित बच्चों का आंकड़ा नहीं बताया.

वहीं, सिंगापुर के स्वास्थ्य मंत्री ओंग ये कुंग ने मेडिकल सर्विसेज के डायरेक्टर के हवाले से कहा है कि बच्चे कोरोना के नये वेरिएंट B.1.617 के शिकार हो रहे हैं. सिंगापुर में रविवार को पिछले साल सितंबर के बाद सबसे अधिक 38 मामले सामने आये हैं. इनमें ऐसे 17 बच्चे शामिल हैं, जिनका आपसी संबंध नहीं है. केवल चार ऐसे बच्चे हैं, जो एक ट्यूशन सेंटर में पढ़ते हैं.

सिंगापुर में कोरोना वायरस का नया वेरिएंट सामने आने के बाद स्कूलों को बंद कर दिया गया है. एशिया का ट्रेड हब माने जानेवाले करीब 57 लाख की आबादीवाले सिंगापुर में पिछले साल करीब 61 हजार लोग संक्रमित हो गये थे. वहीं, 31 लोगों की मौत हुई थी. शिक्षा मंत्री चान चुन सिंग ने सिंगापुर में आवाजाही बाधित करने की भी संभावना जतायी है.

भारत के नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने सिंगापुर में मिले कोरोना वायरस के नये वेरिएंट को लेकर मंगलवार को कहा कि बच्चों में मिले कोरोना संक्रमण के नये वेरिएंट को लेकर रिपोर्ट्स का परीक्षण किया जा रहा है. राहत की खबर है कि संक्रमण गंभीर नहीं हो रहा है. हम स्थिति पर नजर रखे हैं.

इधर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सिंगापुर में मिले नये वेरिएंट को लेकर मंगलवार को कहा कि इससे भारत में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर आ सकती है. यह बच्चों को अधिक प्रभावित कर रही है. साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार से सिंगापुर से आनेवाले विमानों की आवाजाही पर रोक लगाने की अपील की है.

क्या है सिंगापुर वेरिएंट?

सिंगापुर में मिलनेवाला कोरोना वायरस का नया वेरिएंट सबसे पहले भारत में पाया गया था. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी सिंगापुर में पाये जानेवाले B.1.167 को लेकर चिंता जता चुका है. यह कोरोना संक्रमण के अन्य वेरिएंट से ज्यादा संक्रामक है. डब्ल्यूएचओ ने भी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि कोरोना वायरस के B.1.167 वेरिएंट की तीन वंशावली है. इसे B.1.167.1, B.1.167.2 और B.1.167.3 है. मालूम हो कि पिछले साल अक्तूबर माह में महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का B.1.167 वेरिएंट पहली बार पाया गया था. उस समय इसे 'डबल म्यूटेंट' बताया गया था. कोरोना वायरस का B.1.167 वेरिएंट अब दुनिया के 44 देशों में फैल चुका है.

क्यों खतरनाक माना जा रहा है कोरोना वायरस का नया वेरिएंट?

सिंगापुर में मिले कोरोना वायरस का नया वेरिएंट अन्य कई देशों में मिला है. यह तेजी से फैलनेवाला वेरिएंट है. नया वेरिएंट B.1.167 एंटीबॉडी के लेयर को भी तोड़ दे रहा है. हालांकि, वैक्सीन लेने के बाद नया वेरिएंट सिर्फ लोगों को बीमार कर सकता है. भारत और ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने वैक्सीनेशन को अधिकतर लोगों के लिए सुरक्षित पाया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें