1. home Home
  2. entertainment
  3. bollywood
  4. kangana ranaut reacts to withdrawal of farm laws says sad shameful and absolutely unfair bud

कृषि कानूनों की वापसी पर कंगना रनौत ने जताई नाराजगी, बोलीं- दुखद, तो यह भी एक जिहादी देश...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा की. लेकिन बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत मोदी सरकार के इस फैसले से निराश हैं. उन्होंने इसे दुखद और शर्मनाक बताते हुए कहा कि सरकार का ये फैसला अनुचित है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Kangana Ranaut
Kangana Ranaut
instagram

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा की. लेकिन बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) मोदी सरकार के इस फैसले से निराश हैं. उन्होंने इसे दुखद और शर्मनाक बताते हुए कहा कि सरकार का ये फैसला अनुचित है. कंगना ने अपनी इंस्टा स्टोरी में एक व्यक्ति का ट्वीट साझा करते हुए लिखा, “दुखद, शर्मनाक, बिल्कुल अनुचित. अगर संसद में चुनी हुई सरकार के बदले सड़कों पर लोगों ने कानून बनाना शुरू कर दिया है, तो यह भी एक जिहादी राष्ट्र है.उन सभी को बधाई जो इसे इस तरह चाहते थे."

Kangana Ranaut
Kangana Ranaut
instagram

एक दूसरे पोस्ट में उन्होंने दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की एक तस्वीर साझा की. उन्होंने लिखा, "जब देश की अंतरात्मा गहरी नींद में है, तो लाठ (बेंत) ही एकमात्र समाधान है और तानाशाही ही एकमात्र संकल्प है... जन्मदिन मुबारक हो प्रधानमंत्री जी." शुक्रवार को पूर्व पीएम की 104वीं जयंती है. बता दें कि कंगना ने कानून लाने के सरकार के फैसले का समर्थन किया था, जो अक्सर विरोध करने वाले दिलजीत दोसांझ जैसी अन्य हस्तियों के साथ अक्सर सोशल मीडिया पर भिड़ जाती थीं.

Kangana Ranaut
Kangana Ranaut
instagram

वहीं एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने पीएम का एक स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लिखा है, 'इसके साथ ही, गुरुपरब दियां सब नूं वधाइयां.' एक्ट्रेस ऋचा चढड्ढा ने लिखा, जीत गए आप! आप की जीत में सब की जीत है. सोनू सूद ने ट्वीट किया, किसान वापिस अपने खेतों में आयेंगे, देश के खेत फिर से लहराएंगे. धन्यवाद नरेंद्र मोदी जी, इस ऐतिहासिक फैसले से किसानों का प्रकाश पूरब और भी ऐतिहासिक हो गया. जय जवान जय किसान.

गौरतलब है कि, शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि केंद्र सरकार ने देश के किसानों के एक वर्ग के विरोध के बाद, 2020 में संसद में पारित तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने का फैसला किया है. उन्होंने कहा, “आज, मैं आपको, पूरे देश को बताने आया हूं, कि हमने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का फैसला किया है. इस महीने के अंत में शुरू होने वाले संसद सत्र में, हम इन तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए संवैधानिक प्रक्रिया को पूरा करेंगे.”

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें