1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. bollywood
  4. coronavirus increasing cases hampers theatrical release of films stall and films will turn to ott platform akshay kumar amitabh bachchan sry

क्या फिर फिल्मों की थिएटर रिलीज अटकेगी और फिल्में OTT की ओर करेंगी रुख

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जल्द रिलीज होने वाली है 83 और सूर्यवंशी
जल्द रिलीज होने वाली है 83 और सूर्यवंशी
Instagram

बीते दो हफ्तों पर गौर करें तो बॉलीवुड ने एक के बाद एक अपनी फिल्मों की रिलीज तारीख की घोषणा कर रहा है. सलमान खान की राधे योर मोस्ट वांटेड भाई,जॉन अब्राहम की सत्यमेव जयते,यशराज बैनर की फिल्मों का पूरे साल की रिलीज तारीख,अमिताभ की झुंड और चेहरे, रणवीर की 83,अक्षय कुमार की बेल बॉटम,अतरंगी रे कुल मिलाकर हर दिन दो से तीन फिल्मों की घोषणा हो रही है. जिससे लगने लगा था कि सिनेमाघरों की रौनक जल्द ही लौट आएगी लेकिन इसी बीच कोरोना के देश भर में बढ़ते मामलों ने एक बार फिर बॉलीवुड और थिएटर्स मालिकों की परेशानी बढ़ा दी है.

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते हुए मामले सुर्खियों में आ चुके हुए हैं। अमरावती में एक हफ्ते का लॉक डाउन भी लागू कर दिया है. महाराष्ट्र में राजनीतिक,धार्मिक कार्यक्रमों में पाबंदी का भी एलान लग चुका है। एक के बाद इन फैसलों को देखकर फिलहाल यह मुश्किल लग रहा है कि महाराष्ट्र सरकार आगामी एक मार्च से पूरे दर्शक क्षमता के साथ थिएटर शुरू करने का आदेश दे पाएगी. महाराष्ट्र से फिल्मों की कमाई का अहम टेरिटरी है. यह बात किसी से छिपी भी नहीं है. ध्यान देने वाली बात ये है कि सिर्फ महाराष्ट्र ही नहीं कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी की खबरें सात से अधिक राज्यों से आ रही है. आंकड़ों की मानें तो मध्य प्रदेश में 43 प्रतिशत पंजाब में 31 प्रतिशत जम्मू कश्मीर में 22 प्रतिशत, छत्तीसगढ़ में 13,हरियाणा में 11 प्रतिशत कोरोना मामलों में वृद्धि आयी है।दिल्ली और गुजरात में भी कोरोना के मामले बढ़े हैं.

कोरोना के ये बढ़ते मामले क्या फिल्मों की रिलीज को फिर रोक देंगे और बॉलीवुड को एक बार फिर ओटीटी की ओर रुख करना पड़ेगा।यह चर्चा दबी जबान में ही सही शुरू हो गयी है. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राज्य सरकार अगर पूरी क्षमता के साथ थिएटर्स को शुरू भी रखते हैं तो भी सवाल यही है कि क्या दर्शक थिएटर्स की ओर रुख करेगा.

मुम्बई की रहने वाली रितु कहती हैं कि 2020 और अभी के हालात बिल्कुल अलग है. अब हमारे पास वैक्सीन आ गयी है. कुछ हफ्तों में बढ़ते हुए मामलों पर नियंत्रण पा लिया जाएगा और न्यू नार्मल के तहत ज़िन्दगी फिर आगे बढ़ेगी।लोग शॉपिंग कर ही रहे हैं तो सिनेमाघर भी जाएंगे ही. बस एक अच्छी फिल्म का इंतजार है.

मुम्बई के ही कुणाल इस बात से इतेफाक नहीं रखते हैं उनका कहना है कि दर्शकों की भीड़ पहले की तरह सिनेमाघरों में नहीं जुटेगी ये तय है. कोरोना एक वायरस है. पोलियो के वायरस इतने सालों बाद हम निजात पा पाए हैं. ऐसे में कोरोना में कुछ समय तो जाएगा ही.इस साल में भी चीज़ें पहले की तरह नार्मल नहीं हो पाएगी. थिएटर में लोग मनोरंजन के लिए जाते हैं ।कोरोना के टेंशन के बीच वह मनोरजंन कैसे कर पाएंगे और सबसे अहम बात ओटीटी घर बैठे मनोरजंन दे रहा है.

Posted By: Shaurya Punj

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें