1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. bollywood
  4. abhishek bachchan epic reply to user who ask how he will fend himself tweet

'पिता हॉस्पिटल में हैं, किसके भरोसे बैठकर खाओगे', यूजर के सवाल का अभिषेक बच्‍चन ने दिया ऐसा जवाब

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
abhishek bachchan
abhishek bachchan
photo: twitter

Abhishek Bachchan tweet: बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) और उनके बेटे अभिषेक बच्चन (Abhishek Bachchan) इन दिनों अस्‍पताल में कोरोना वायरस का इलाज करवा रहे हैं. बीते दिनों ही उनकी बहू ऐश्वर्या राय और अराध्या बच्चन का कोरोना टेस्ट नेगेटिव आया था. जिसके बाद उन्‍हें अस्‍पताल से छुट्टी दे दी गई थी. अमिताभ बच्‍चन लगातार सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं. वहीं अभिषेक भी लगातार सोशल मीडिया के माध्‍यम से हेल्‍थ अपडेट दे रहे हैं.

इस बीच अभिषेक बच्‍चन का एक ट्वीट तेजी से वायरल हो रहा है. दरअसल एक यूजर ने अभिषेक बच्चन से ट्विटर पर पूछा,' आपके पिता हॉस्पिटल में एडमिट हैं, आप किसके भरोसे बैठकर खाओगे.' जूनियर बच्‍चन ने इसका बेहद सादगीपूर्ण जवाब दिया.

अभिषेक बच्चन ने यूजर को जवाब देते हुए लिखा, "फिलहाल तो लेट के खा रहे हैं दोनों एक साथ अस्पताल में." इसके बाद उस यूजर ने दोबारा ट्वीट किया,' जल्‍दी ठीक हो जाइये सर, हर किसी की किस्मत में लेटकर खाना नहीं है." अभिषेक बच्‍चन ने इसके जवाब में लिखा,' मैं प्रार्थना करता हूं कि आप कभी भी हमारी जैसी स्थिति में न हों और आप सुरक्षित और स्वस्थ रहें. आपकी दुआओं के लिए धन्यवाद, मैम.'

इससे पहले अभिषेक बच्चन ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट एक एक फोटो शेयर की थी. इस तसवीर में उन्होंने रात के समय अस्पताल का नजारा दिखाया है. इस फोटो में देखा जा सकता है कि अस्‍पताल में किस तरह शांति है और पूरे कॉरिडॉर में दरवाजों और लाइट्स के अलावा कुछ और नजर नहीं आ रहा है. इस तसवीर को शेयर करते हुए अभिषेक ने कैप्शन में लिखा, 'सुरंग के अंत में वो रोशनी...'. सह तसवीर अभिषेक बच्‍चन ने तब शेयर की थी जब वह नाइट वॉक पर निकले थे.

वहीं, अमिताभ बच्चन भी अपने पोस्ट के जरिए फैंस से जुड़े हुए है. वो लगातार नानावटी अस्पताल से अपने पोस्ट शेयर कर रहे है. हाल ही में अमिताभ बच्चन ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया था. वीडियो के बैकग्राउंड में बिग बी अपने पिता हरिवंश राय बच्चन की कविता कहते नजर आ रहे हैं. इस वीडियों के कैप्शन में उन्होंने लिखा था, बाबूजी की कविता के कुछ पल. वो इसी तरह गाया करते थे कवि सम्मेलनों में. अस्पताल के अकेलेपन में उनकी बहुत याद आती है और उन्हीं के शब्दों से अपनी सूनी रातों को आबाद करता हूं.

Posted By: Budhmani Minj

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें