1. home Home
  2. election
  3. up assembly elections
  4. up vidhan sabha chunav 2022 congress performance 1989 elections to 2017 elections see full details of won seats here acy

UP Election 2022: यूपी को आखिरी 'ब्राह्मण' मुख्यमंत्री देने वाली कांग्रेस का ऐसा रहा है अब तक का सियासी सफर

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस अपनी खोयी हुई सियासी जमीन हासिल करने की कोशिश में लगी हुई है. पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी मोर्चा संभाली हुई हैं. आइए एक नजर डालते हैं, 1989 से लेकर 2017 तक के कांग्रेस के प्रदर्शन पर...

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
यूपी कांग्रेस प्रभारी प्रियंका गांधी
यूपी कांग्रेस प्रभारी प्रियंका गांधी
प्रभात खबर

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. कांग्रेस इस चुनाव के जरिये यूपी में अपनी खोयी हुई सियासी जमीन हासिल करने की कोशिश कर रही है. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी छत्तीसगढ़ के मॉडल को अपनाकर यूपी की सत्ता पर काबिज होने के प्रयास में हैं. उन्होंने विधानसभा चुनाव में महिलाओं को 40 प्रतिशत आरक्षण देने के साथ-साथ सात प्रतिज्ञा भी की है.

दरअसल, पिछली बार 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को महज 7 सीटें हासिल हुई थी. इससे पहले, 2012 में 28, 2007 में 22 सीटें, 2002 में 25, 1996 में 33, 1991 में 46 और 1989 में 94 सीटें मिली थी.

1989 का विधानसभा चुनाव

वर्ष 1989 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 94 सीटें मिली थी. सबसे बड़ी पार्टी के रूप में जनता दल सामने आयी थी. उसे 208 सीटों पर जीत मिली थी. बीजेपी को 57, कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया को 6, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी को 2, बहुजन समाज पार्टी को 13, अखिल भारतीय हिन्दू महासभा को 1 और शोषित समाज को एक सीटें मिली थी.

1991 का विधानसभा चुनाव

वर्ष 1991 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 221, सीपीआई को 4, सीपीआई (एम) को 1, कांग्रेस को 46, जनता दल को 92, जनता पार्टी (जेएनपी) को 34 और बसपा को 12 सीटें मिली थी.

1996 का विधानसभा चुनाव

वर्ष 1996 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को केवल 33 सीटें मिली थी. वहीं, समाजवादी पार्टी को 110, बहुजन समाज पार्टी को 67 और भारतीय जनता पार्टी को 174 सीटें मिली थी.

2002 का विधानसभा चुनाव

वर्ष 2002 में हुए विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 88, बहुजन समाज पार्टी को 98 और समाजवादी पार्टी को 143 सीटें मिली थी. वहीं, कांग्रेस को महज 25 सीटों से संतोष करना पड़ा.

2007 का विधानसभा चुनाव

वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में बहुजन समाज पार्टी सामने आयी. बसपा को 206 सीटों पर जीत हासिल हुई. जबकि बीजेपी को 51, समाजवादी पार्टी को 97 सीटों से संतोष करना पड़ा. कांग्रेस के सीटों का आंकड़ा कम होता हुआ 22 पर पहुंच गया.

2012 का विधानसभा चुनाव

वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में भी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में समाजवादी पार्टी सामने आयी और अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बने. इस चुनाव में बसपा को 80, भाजपा को 47 और कांग्रेस को 28 सीटें मिली थी.

2017 का विधानसभा चुनाव

2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को महज 7 सीटें मिली. वहीं भाजपा 312 सीटों के साथ सबसे पार्टी के रूप में सामने आयी और योगी आदित्यनाथ प्रदेश के मुख्यमंत्री बने. इस चुनाव में बसपा को 19, सपा को 47, रालोद को 1 और अपना दल (सोनेलाल)

Posted By: Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें