1. home Home
  2. election
  3. up assembly elections
  4. up election 2022 cm yogi will distribute smartphones to more than one lakh anganwadi workers in lucknow on 28 september acy

UP Election 2022 से पहले CM योगी एक लाख से अधिक आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को देंगे स्मार्टफोन, जानें कब मिलेगा

यूपी चुनाव से पहले सीएम योगी 1 लाख से अधिक आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन फोन देंगे. यह कार्यक्रम लखनऊ में मंगलवार को होगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
up election 2022: cm yogi adityanath
up election 2022: cm yogi adityanath
file photo

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को राजधानी लखनऊ में एक कार्यक्रम में 1,23,000 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन बांटेंगे. वह कार्यक्रम में प्रत्येक आंगनवाड़ी केंद्र को इन्फैंटोमीटर भी वितरित करेंगे. यह जानकारी प्रदेश सरकार की तरफ से दी गई है.

दरअसल, उत्तर प्रदेश महिला व बाल विकास विभाग आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन से लैस करने जा रहा है. इसका मकसद महिलाओं, बच्चों के स्वास्थ्य और पोषण से संबंधित मुद्दों को सुविधाजनक बनाना है. स्मार्टफोन मिलने के बाद महिला एवं बाल योजनाओं से संबंधित हर डाटा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के हाथ में रहेगा. प्रदेश में 1.89 लाख आंगनवाड़ी केंद्र हैं, जिनमें करीब चार लाख कार्यकर्ता सक्रिय हैं.

कोरोना काल में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का बहुत बड़ा योगदान रहा है. उन्हीं की वजह से प्रदेश में कोरोना के मामले बहुत हद तक नियंत्रित रहा है. आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की वजह से ही लोग कोरोना टीकाकरण के प्रति जागरूक होकर टीका लगवा रहे हैं.

प्रदेश सरकार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन का बेहतर उपयोग करने के तरीके के बारे में भी प्रशिक्षित करेगी. इसके लिए सरकार ने योजना तैयार की है. प्रत्येक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को स्मार्टफोन के प्रयोग का प्रशिक्षण दिया जाएगा. इस प्रयास से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को कार्य करने में सुविधा होगी और योजनाओं के क्रियान्वयन में भी पारदर्शिता आएगी.

स्मार्टफोन से लैस होने के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में पोषण और बाल कल्याण संबंधी योजनाओं को अधिक प्रभावी तरीके से लागू किया जा सकेगा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए 'मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना' की शुरुआत की है. स्मार्टफोन मिलने के बाद इस पहल के साथ ऐसी अन्य योजनाओं को निर्बाध और पारदर्शी तरीके से लागू करने में भी मदद मिलेगी.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में सत्तासीन भारतीय जनता पार्टी की कोशिश दोबारा से सत्ता पर काबिज होना है. इसके लिए वह जीजान से जुटी है. इसी कड़ी में सोमवार को मंत्रिमंडल विस्तार किया गया, जिसमें जातिगत समीकरणों को साधने की कोशिश की गई है. राजनीतिक विशेषज्ञों के मुताबिक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन देना भी चुनावी दांव नजर आ रहा है.

Posted By: Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें