1. home Home
  2. election
  3. up assembly elections
  4. up election 2022 asaduddin owaisi addressed public in prayagraj targeted yogi adityanath bjp government akhilesh yadav acy

UP Election 2022: 'यह बीज बोने का नहीं, फसल काटने का वक्त है', किस ओर है असदुद्दीन ओवैसी का इशारा?

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में दोबारा किसी भी कीमत पर बीजेपी की सरकार न बनने दें. यह बीज बोने का नहीं, फसल काटने का वक्त है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
up election 2022: asaduddin owaisi in prayagraj
up election 2022: asaduddin owaisi in prayagraj
twitter

UP Election 2022: ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी शनिवार को संगम नगरी प्रयागराज पहुंचे. यहां उन्होंने अटाला में एक जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान ओवैसी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में दोबारा किसी भी कीमत पर बीजेपी सरकार न बनने दें. मैं आपको पैगाम दे कर जा रहा हूं. यह बीज बोने का नहीं, फसल काटने का वक्त है. मैं आपको नेता बनाने आया हूं.

मुसलमानों को 60 साल से मिलता आ रहा धोखा

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने आरोप लगाते हुए कहा कि मुसलमानों को 60 साल से धोखा मिलता रहा है. रामपुर से सपा सांसद आजम खान और बसपा विधायक मुख्तार अंसारी जेल में हैं. बड़ी संख्या में मुसलमानों को जेलों में बंद किया गया है. उन्होंने कहा कि ओबीसी ने नरेंद्र मोदी को अपना वोट देकर पीएम बनाया, लेकिन वे ओबीसी की जनगणना नहीं करा रहे हैं. ओबीसी को मोदी सरकार धोखा दे रही है. साल 2024 के लोकसभा चुनाव में हम मोदी को भी हरायेंगे

असदुद्दीन ओवैसी के संबोधन के प्रमुख अंश

  • अतीक अहमद कानून की नजर में चुनाव लड़ सकते हैं.

  • आने वाले विधानसभा चुनाव में अतीक अहमद आपके वोट से जरूर जीतेंगे.

  • मुजफ्फरनगर दंगे के आरोपियों पर दर्ज मुकदमे बीजेपी सरकार ने वापस ले लिए हैं, लेकिन इस पर मीडिया में कोई चर्चा नहीं हुई.

  • जिस समाज का नेता होगा, उसके मसले हल किए जाते हैं.

  • ओवैसी इसीलिए आया है कि हमको अपना हिस्सा लेना है.

  • आपको अपना हक कब मिलेगा?

  • यादव अखिलेश को, ठाकुर योगी आदित्यनाथ को, कुर्मी अनुप्रिया पटेल को और ब्राह्मण व अन्य समाज के लोग मोदी को अपना नेता मानते हैं, लेकिन मुस्लिम अखलियत की यूपी में कोई आवाज ही नहीं है.

  • अगर आप एक करवट लेंगे तो मुझे यकीन है उत्तर प्रदेश में इंकलाब होगा.

  • मैं वादा करता हूं अल्लाह जब तक मुझे जिंदा रखेगा, उत्तर प्रदेश में एक इंकलाब पैदा होगा.

अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन की आंसुओं का वास्ता देते हुए ओवैसी ने कहा कि मेरी मां और बहनों की आंख से आंसू निकलना कम हो जाए मैं यही चाहता हूं. उन्होंने कहा कि न मोदी से डरना है, न योगी से डरना है, न अखिलेश से डरना है और न कांग्रेस से डरना है. मैं यही पैगाम देने आया हूं.

मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफ्तार करने और 10 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजने को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि इस मामले में अखिलेश यादव नहीं बोले, क्योंकि उन डर हैं कि उन्हें फिर हिंदू वोट नहीं मिलेगा. वहीं, योगी सरकार के धर्मांतरण कानून को गलत करार देते हुए ओवैसी ने कहा कि इस कानून के तहत कोई मुसलमान और ईसाई होता है तो उसे बताना पड़ेगा. यह कानून असंवैधानिक है. हम नाइंसाफी को नाइंसाफी कहेंगे, चाहे मुसलमान करे या हिन्दू.

Posted By; Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें