1. home Home
  2. election
  3. up assembly elections
  4. up chunav 2022 congress senior leader pramod tiwari hit out cm yogi adityanath bjp government over bebi rani maurya statement acy

UP Election 2022: बेबी रानी मौर्य के बयान पर बोले प्रमोद तिवारी- योगी जी को अब मेरे सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है. उन्होंने बेबी रानी मौर्य के बयान को लेकर कहा कि उनके सर्टिफिकेट के बाद अब मुझे योगी जी को प्रमाण पत्र देने की जरूरत नहीं है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी
प्रभात खबर

UP Election 2022: वाराणसी में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने पराडकर भवन में प्रेस मीडिया से बातचीत करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने शहरों के नाम बदलने से लेकर, बेरोजगारी तक के मुद्दे पर सरकार की विकास की गति को धीमा करार दिया.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने मीडिया के सामने प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि योगी सरकार की ओर से फैजाबाद रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर अयोध्या रख देने से सिर्फ़ विकास नहीं हो जाता है. इसके लिए सरकार को काम भी करने होंगे. नाम बदलना आसान है मगर विकास करना कठिन है.

प्रमोद तिवारी ने कहा कि जितनी बेरोजगारी योगी जी की सरकार में बढ़ी हैं, उतनी आज तक किसी भी सरकार में बेरोजगारी नहीं बढ़ी है. युवाओं में बेरोजगारी की दर बढ़ती जा रही है. भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बेबी रानी मौर्य के द्वारा दिए गए बयान की 5:00 बजे के बाद महिलाएं थाने ना जाएं के जवाब में उन्होंने कहा कि वह राज्यपाल भी रही हैं और आगरा की मेयर भी रही हैं. इसलिए उनका आंकलन बिल्कुल सही होगा. उनके प्रमाण पत्र जो योगी जी के लिए है, उसके बाद मुझे प्रमाण पत्र देने की जरूरत नहीं है.

वाराणसी में कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बेबी रानी मौर्या ने कहा कि यूपी के थानों में एक महिला अधिकारी और सब - इंस्पेक्टर जरूर बैठती है, लेकिन एक बात में जरूर कहूंगी कि शाम 5 बजे अंधेरा हो जाने के बाद थाने कभी मत जाना. अगर जरूरी हो तो अगले दिन सुबह जाना और अपने साथ भाई पति या पिता को लेकर ही थाने जाना.

कांग्रेस पार्टी द्वारा प्रस्तावित प्रतिज्ञा यात्रा को अनुमति न मिलने पर राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी ने पत्रकारवार्ता कर सरकार पर जुबानी हमला बोला. उन्होंने कहा कि वाराणसी में सांकेतिक रूप से प्रतिज्ञा यात्रा निकाली गई. इस देश की प्राचीनतम पार्टी को अनुमति नहीं दिया गया, जो दर्शाता है कि देश में मोदी-योगी की सरकार मौलिक अधिकार खत्म कर देना चाहती है. हम लड़ाई लड़ेंगे, यह साधारण लड़ाई नहीं है. यह लड़ाई अभिनायकवाद के खिलाफ है. संविधान की सभी मर्यादाओं को और संविधान की मूल की हत्या करने वालों के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी. यह आज़ादी की दूसरी लड़ाई है

प्रमोद तिवारी ने कहा कि आज़ाद भारत की कमाई को सरकार ने चुनिंदा पूंजीपतियों के हांथ में बेच दिया है. एक लड़ाई गोरे अंग्रेजो से लड़ी और दूसरी काले कारनामे करने वालो से हम लड़ेंगे. बेबी रानी के बयानों को आड़े हाथ लेते हुए उन्होंने यूपी की कानून-व्यवस्था को लेकर तंज कसा और कहा कि इस सरकार में जनता की सुनने वाला कोई नहीं. यह सरकार पूरी तरह से मनमानी कर रही है.

मौलिक अधिकारों का हनन नहीं होने देंगे

प्रमोद तिवारी ने कहा कि एक साल से किसानों को अपनी जमीन व जमीर बचाने के लिए और हिंदुस्तान बचाने के लिए लड़ना पड़ रहा है. भूख के मामले में पाकिस्तान, बांग्लादेश व नेपाल से भी देश नीचे चला गया है. इस सरकार के खिलाफ जो भी विरोध की आवाज उठाता है, केंद्रीय एजेंसियां उनके घर पहुंचती है. हम ऐसा कदापि नहीं होने देंगे. संविधान में वर्णित मौलिक अधिकारों का हनन नहीं होने देंगे.

पीएम के सभी वादे रहे विफल

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने कहा कि काशी के साथ किए पीएम के सभी वादे विफल हो गए. पीएम मोदी का इतिहास है. जो कहा, वह किया नहीं. अब यह सरकार महीने दो महीने बाद जाने वाली है. जानवरों को मिलने वाला बजट का फंड बीजेपी के नेताओ के पेट में जा रहा है. पेट्रोल और डीजल का बढ़ता दाम जले पर नमक छिड़कने वाला है.

रिपोर्ट- विपिन सिंह, वाराणसी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें