1. home Home
  2. election
  3. up assembly elections
  4. swatantra dev singh targets akhilesh yadav over resignation of bjp mlas sht

बीजेपी का टिकट न मिलने वालों को ब्लैक में टिकट दे रहे हैं टीपू सुल्तान- स्वतंत्र देव सिंह

यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बिना नाम लिए सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव पर हमला बोला है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
 यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह
यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह
प्रभात खबर

UP Chunav 2022: यूपी में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी के कई विधायक पार्टी से इस्तीफा दे चुके हैं. एक महीने में बीजेपी के तीन मंत्रीयों समेत 14 विधायक पाला बदल चुके हैं. इस बीच यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बिना नाम लिए सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव पर हमला बोला है.

सपा पर स्वतंत्रदेव सिंह का हमला

स्वतंत्रदेव सिंह ने ट्वीट कर लिखा कि, जिन्हें ‘डबल इंजन’ की ट्रेन का टिकट नहीं मिल रहा उन्हें अपने डग्गामार वाहन का ‘ब्लैक’ में टिकट दे रहे है टीपू सुल्तान!, दरअसल, पार्टी से लगातार इस्तीफा देकर समाजवादी पार्टी में शामिल हो रही नेताओं को लेकर यूपी बीजेपी के अध्यक्ष ने यह ट्वीट किया है.

बीजेपी से इस्तीफा देने वालों का सिलसिला तेज

दरअसल, यूपी में विधानसभा चुनाव के ऐलान के बाद से राजनीतिक उठापटक तेज हो गई है. 7 चरणों में होने वाले चुनाव से पहले बीजेपी के तीन मंत्रीयों समेत 14 विधायक पाला बदल चुके हैं. हालांकि इस बीच कुछ नेता बीजेपी में भी शामिल हुए हैं, लेकिन इनकी संख्या पार्टी छोड़ने वालों से कम हैं. .

आज दो विधायक और एक मंत्री ने दिया इस्तीफा

बीजेपी छोड़ने वाले विधायक और मत्रियों का सिलसिला बृहस्पतिवार 13 जनवरी को भी जारी रहा. दिन की शुरूआत बीजेपी विधायक मुकेश वर्मा के इस्तीफे का साथ हुई. वर्मा फिरोजाबाद की शिकोहाबाद विधानसभा सीट से विधायक हैं. इसके बाद बीजेपी विधायक विनय शाक्य ने भी इस्तीफा सौंप दिया है. इसके बाद तीसरा इस्तीफा आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी ने दिया है.

बीजेपी से इस्तीफा देने वाले अधिकतर नेताओं के आरोप

बीजेपी से इस्तीफा देने वाले विधायकों और मंत्रियों ने पार्टी पर दलित, पिछड़ों और अल्पसंख्यक समुदाय विरोधी होने का आरोप लगाया है. नेताओं का कहना है पार्टी ने जनप्रतिनिधियों को कोई तवज्जो नहीं दी, औ न ही उन्हें उचित सम्मान दिया गया. इसके अलावा प्रदेश सरकार द्वारा ही दलितों पिछड़ों किसानों और बेरोजगारों नौजवानों और छोटे-लघु एवं मध्यम श्रेणी के व्यापारियों की भी घोर उपेक्षा की गई.

10 फरवरी से होगी वोटिंग

बता दें कि यूपी में 7 चरणों मे चुनाव होना है. प्रथम चरण के लिए वोटिंग 10 फरवरी, द्वितीय चरण 14 फरवरी, तृतीय चरण 20 फरवरी, चतुर्थ चरण 23 फरवरी, पांचवा चरण 27 फरवरी, छठा चरण 3 मार्च, सातवां चरण-7 मार्च और 10 मार्च को मतगणना होगी.

posted by sohit kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें