1. home Hindi News
  2. election
  3. up assembly elections
  4. know about bilaspur assembly seat what is its chunavi samikaran abk

UP Chunav 2022: बिलासपुर सीट पर किसानों का दबदबा, कृषि कानूनों की वापसी के बाद हवा कितनी बदली?

इस सीट पर 2017 के चुनाव में बीजेपी को जीत हासिल हुई थी. किसान आंदोलन और उसके बाद तीनों कृषि कानूनों की वापसी का असर बिलासपुर सीट के चुनावी नतीजों पर दिख सकता है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
UP Chunav 2022: ‍Bilaspur Assembly Seat
UP Chunav 2022: ‍Bilaspur Assembly Seat
प्रभात खबर ग्राफिक्स

UP Chunav 2022: उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले में पांच विधानसभा सीट आती है. इसमें ही बिलासपुर सीट है. यहां पर दूसरे चरण में 14 फरवरी को वोटिंग है और 10 मार्च को काउंटिंग होगी. इस सीट पर 2017 के चुनाव में बीजेपी को जीत हासिल हुई थी. ऐसा माना जा रहा है किसान आंदोलन और उसके बाद तीनों कृषि कानूनों की वापसी का असर बिलासपुर सीट के चुनावी नतीजों पर दिख सकता है.

बिलासपुर में किसानों का काफी दबदबा

उत्तराखंड और यूपी के बॉर्डर पर स्थित बिलासपुर विधानसभा क्षेत्र रामपुर जिला में आता है. बिलासपुर में सिख समुदाय की आबादी काफी ज्यादा है. यहां पर कुछ किसान पंजाब से आकर बसे हैं. किसान आंदोलन और गन्ने के दामों को लेकर किसान मांगें उठाते रहे हैं. अधिकांश किसानों में सरकार के प्रति नाराजगी है. जिसके कारण ऐसा माना जा रहा है कि बीजेपी के लिए मुकाबला कड़ा होने वाला है.

बीजेपी-कांग्रेस के बेीच कांटे की टक्टर

बिलासपुर से बीजेपी ने बलदेव सिंह औलख को मैदान में उतारा है. कांग्रेस ने संजय कपूर पर भरोसा जताया है. बिलासपुर सीट पर किसानों (जाट भी) का वोट काफी बड़ा फैक्टर है. इनके वोट की बदौलत हार-जीत तय होती है. 2017 की बात करें तो बीजेपी के बलदेव सिंह औलख ने उस चुनाव में कांग्रेस के संजय कपूर को करारी शिकस्त दी. वहीं, 2012 के उत्तर प्रदेश चुनाव में कांग्रेस के संजय कपूर ने सपा के बीना भारद्वाज को हराने में सफलता हासिल की थी. इस बार भाजपा और कांग्रेस दोनो में ही कांटे की टक्कर है. दूसरी तरफ सपा और बसपा भी जोर-आजमाइश में भिड़े हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें