1. home Home
  2. election
  3. up assembly elections
  4. bhadohi mla vijay mishra said present yogi government against brahmin community abk

अदालत में पेशी के बाद बाहुबली विधायक विजय मिश्रा बोले- योगी सरकार ब्राह्मण विरोधी, श्राप से करेंगे भस्म

दुष्कर्म पीड़िता को धमकाने और घर में घुसकर मारपीट के वाराणसी के जैतपुरा थाने में दर्ज मुकदमे में विधायक को कोर्ट में पेश किया गया. कचहरी में पेशी के बाद विधायक विजय मिश्रा ने मीडिया से बातचीत में भगवान राम पर विवादित बयान दे दिया.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
कोर्ट में पेशी के बाद बाहुबली विधायक विजय मिश्रा
कोर्ट में पेशी के बाद बाहुबली विधायक विजय मिश्रा
प्रभात खबर

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश के भदोही के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा की गुरुवार को वाराणसी सिविल जज जूनियर डिवीजन सेकेंड की अदालत में पेशी हुई. विधायक को पेशी के दौरान कड़ी सुरक्षा में आगरा जेल से वाराणसी लाया गया. दुष्कर्म पीड़िता को धमकाने और घर में घुसकर मारपीट के वाराणसी के जैतपुरा थाने में दर्ज मुकदमे में विधायक को कोर्ट में पेश किया गया. कचहरी में पेशी के बाद विधायक विजय मिश्रा ने मीडिया से बातचीत में भगवान राम पर विवादित बयान दे दिया.

विधायक विजय मिश्रा ने पेशी के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ब्राह्मण विरोधी है. भगवान राम क्षत्रिय नहीं बल्कि विष्णु के स्वरूप हैं. सुर-असुर की लड़ाई में रावण ने जब जाना कि राजा दशरथ का पुत्र उनको मारेगा. रावण ने राजा दशरथ को नपुंसक बना दिया था. राम किसी पार्टी के एजेंट नही हैं. राम ने भी कहा है कि जिसको कोई नहीं मार सकता वो ब्राह्मण के श्राप से भस्म होगा.

विधायक विजय मिश्रा ने कहा कि उनको और उनके पूरे परिवार को झूठे केस में फंसाया गया. सरकार खुद को भयमुक्त समाज की श्रेणी में रखती है. यह दिखाने के लिए कुछ ना कुछ करेगी ही, मैं किसी भी सरकार के सामने घुटने टेकने वाला नहीं, भले ही गर्दन कट जाए. मैंने गलत का हमेशा विरोध किया है, किसी का भी पैसा नहीं लिया है, ना ही खाया है. गृह मंत्री अमित शाह ने आईबी से डेढ़ साल पहले जांच कराई थी. मेरे ऊपर किसी भी प्रकार की कोई देनदारी नहीं है और रंगबाजी, गुंडा टैक्स संबंधी कोई आपराधिक मुकदमा नहीं है. सरकार ने झूठे मुकदमे में फंसाया है ताकी चुनाव नहीं लड़ सकूं. सरकार ने मेरे बेटे को आतंकवादी बनाया है. मैं संपत्ति किसी को भी देने को तैयार हूं.

विधायक ने कहा कि हिंदू राष्ट्र, हिंदू युवा वाहिनी कहां से पनपती है? देश विभाजन के समय सबसे ज्यादा हिंदू मारे गए, हिंदुओ को मारकर आप हिंदू राष्ट्र नहीं बना सकते. पुलिस कस्टडी में कहीं विश्वकर्मा को मारा जा रहा तो पालघर में साधुओं की हत्या हो रही है. विकास दुबे को मार दिया गया. काशी विश्वनाथ नगरी है. यहां से हर महीने 30 से 40 करोड़ की वसूली होती है, क्या ये बात लोग नहीं जानते हैं? कल मुझे भी मार दिया जाए तो गम नहीं. मैं सत्य से पीछे नहीं हटूंगा. मैं काशी विद्वत परिषद से अपील करने आया हूं कि मुझे न्याय दें. झूठे केस से बरी करें. इसका फैसला देश के सामने होगा.

(रिपोर्ट:- विपिन सिंह, वाराणसी)

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें