1. home Home
  2. election
  3. punjab election 2022 actor sonu sood sister malvika joins congress rts

अभिनेता सोनू सूद की बहन मालविका कांग्रेस में शामिल, एक मंच पर साथ नजर आएं सिद्धू और चन्नी

अभिनेता सोनू सूद की बहन मालविका सूद सोमवार को कांग्रेस में शामिल हो गई हैं. एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उन्हें मोगा सीट से उम्मीदवार घोषित किया गया है. इस दौरान पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और सीएम चन्नी एक साथ नजर आएं .

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
प्रेस कांफ्रेंस के दौरान सिद्धू, सीएम चन्नी और मालविका सूद
प्रेस कांफ्रेंस के दौरान सिद्धू, सीएम चन्नी और मालविका सूद
ANI

Punjab elections 2022: अभिनेता सोनू सूद की बहन मालविका सूद कांग्रेस में शामिल हो गई हैं. सोमवार को एक प्रेस कांफ्रेंस कर कांग्रेस की सदस्यता लेते हुए पार्टी का हिस्सा बन गई. सबसे पहले पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू मालविका सूद के घर पहुंचे जहां उनके भाई अभिनेता सोनू सूद भी मौजूद थे. कांग्रेस ने मालविका सूद को मोगा सीट से प्रत्याशी घोषित किया है. बता दें कि सिद्धू और पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने प्रेस कांफ्रेंस कर मालविका की औपचारिक एंट्री कांग्रेस में करवाई और मोगा सीट से उम्मीदवार भी घोषित किया. बता दें कि इस दौरान सिद्धू और चन्नी एक मंच पर साथ नजर आएं. पिछले दिनों कांग्रेस में टिकट बंटवारे को लेकर अंर्तकलह की बात कही जा रही थी.

सिद्धू ने क्या कहा: पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा कि सोनू सूद अपनी मानवता और दयालुता के लिए पूरी दुनिया में जाने जाते हैं और आज उस परिवार का एक सदस्य हमसे जुड़ रहा है. मालविका सूद पढ़ी-लिखी महिला हैं. उन्होंने कहा कि यह सौभाग्य की बात है कि इतने अच्छे परिवार का एक व्यक्ति हमारी पार्टी में आ रहा है. वहीं, खबरों की मानें तो मालविका सूद को प्रत्याशी घोषित करने के बाद मोगा से विधायक डॉ. हरजोत कमल के समर्थकों ने हंगामा किया और पार्टी के खिलाफ नारेबाजी भी की. हालांकि मामले को शांत कराते हुए सीएम चन्नी ने विधायक को कांग्रेस पार्टी में दूसरे अच्छे पद देने की घोषणा की है.

आपको बता दें कि सोनू सूद को पिछले सप्ताह ही चुनाव आयोग ने पंजाब के ब्रांड एंबेसडर के पद से हटाने का ऐलान किया था. राज्य निर्वाचन अधिकारियों ने जानकारी दी थी कि सोनू सूद ने खुद ब्रांड एंबेसडर का पद छोड़ा है. चुनाव आयोग ने एक साल पहले उन्हें पंजाब का स्टेट आइकॉन बनाया था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें