तसवीरों में बंगाल विधानसभा का सत्र, एक्शन में दिखीं ममता, बिमान बनर्जी बने स्पीकर

Prabhat khabar Digital

पश्चिम बंगाल विधानसभा का विशेष सत्र शनिवार को बुलाया गया. सुबह 11 बजे राज्यपाल जगदीप धनखड़ के अभिभाषण से सत्र की शुरुआत हुई. इसके पहले गुरुवार और शुक्रवार को प्रोटेम स्पीकर, पूर्व मंत्री और टीएमसी के वरिष्ठ नेता सुब्रत मुखर्जी ने नवनिर्वाचित विधायकों को विधानसभा की सदस्यता की शपथ दिलाई.

विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान पश्चिम बंगाल की तीसरी बार सीएम बनीं ममता बनर्जी ने संबोधित किया. सीएम ने अपने संबोधन में कोरोना संक्रमण का जिक्र किया. ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर कोरोना संकट में मदद देने के नाम पर भेदभाव बरतने के आरोप लगाए.

उन्होंने कहा कि पिछले छह महीने में कोई काम नहीं किया गया है. सीएम ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि केंद्रीय मंत्री सिर्फ पश्चिम बंगाल में घूमने के मकसद से आए. उनका मुख्य एजेंडा पश्चिम बंगाल में चुनाव जीतने का रहा. उनको यहां की जनता से कोई लेना-देना नहीं था.

ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से सभी के मुफ्त वैक्सीनेशन की मांग की. उन्होंने कहा कि केंद्र के लिए 30 हजार करोड़ रुपए बड़ी रकम नहीं है. केंद्र सरकार को चाहिए कि जल्द से जल्द देश के सभी लोगों का मुफ्त वैक्सीनेशन कराया जाए.

टीएमसी सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने अपने संबोधन में चुनाव आयोग में तत्काल सुधार की जरुरत का भी जिक्र किया.

विधानसभा सत्र के दौरान टीएमसी नेता बिमान बनर्जी को तीसरी बार स्पीकर चुना गया. उन्हें सभी पार्टियों के नेताओं ने स्पीकर चुने जाने पर बधाई दी.

इस बार बंगाल चुनाव के नतीजों में टीएमसी ने तीसरी बार जीत हासिल की है. वहीं, ममता बनर्जी को लगातार तीसरी बार सीएम बनने का मौका मिला है. जबकि, बीजेपी दूसरे नंबर की पार्टी बनी है.