Ratan Tata ने अपने गुरु JRD Tata की जयंती पर शेयर की खास तस्वीर, Tata Motors से है कनेक्शन

Prabhat khabar Digital

Ratan Tata ने इंस्टाग्राम पर अपने गुरु JRD Tata को उनकी 117वीं जयंती पर याद करते हुए एक पुरानी तस्वीर शेयर की है, जो 1992 में टाटा एस्टेट (Tata Estate) स्टेशन वैगन कार के लॉन्च समारोह में ली गई थी. उन्होंने लिखा, जेआरडी की 117 वीं जयंती पर एक और यादगार तस्वीर, एक और याद.

Tata Estate टाटा मोटर्स की शुरुआती पैसेंजर कारों में से एक थी. यह एक स्टेशन वैगन थी फुल साइज एसयूवी टाटा एस्टेट 1948 सीसी डीजल इंजन के साथ बाजार में उतारी गई थी. इसमें मैनुअल ट्रांसमिशन दिया गया था. टाटा एस्टेट का डिजाइन 1980 मर्सिडीज बेंज स्टेशन वैगन से प्रेरित था और यह काफी लंबी लगती थी.

Tata Sierra भी उसी दौर की कार थी और यह भारत में बिकने वाली सबसे पहली फुल साइज एसयूवी थी. कंपनी ने इसमें 2 लीटर का डीजल दिया था. कंपनी ने इसमें तीन दरवाजों वाला डिजाइन दिया था. इसी डिजाइन के चलते यह काफी फेमस भी हुई थी. सबसे खास बात यह कि कंपनी ने इसमें 4x4 वेरिएंट भी शामिल किया था.

Tata Motors देश की दिग्गज कार निर्माता कंपनी है और देश-विदेश में पैसेंजर कारों के अलावा इस कंपनी के कमर्शियल व्हीकल्स भी मशहूर हैं. इस वाहन निर्माता कंपनी ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना नाम बनाया है और लगभग हर सेगमेंट में इस कंपनी की कारें मौजूद हैं.

जहांगीर रतनजी दादाभाई टाटा (JRD Tata) की बात करें, तो उनका जन्म 29 जुलाई, 1904 को हुआ था. रतन टाटा कई मौकों पर उन्हें याद करते और उनके सम्मान में बातें कहते हैं. रतन टाटा उन्हें एक संरक्षक और एक आदर्श मानते थे.

रतन टाटा ने एक बार कहा था- जेह एक प्रिय मित्र, एक आदर्श, एक मार्गदर्शक और एक ऐसे व्यक्ति थे, जिनका मेरे काम और घर दोनों पर गहरा प्रभाव था. आधी सदी से अधिक समय तक टाटा समूह का नेतृत्व करनेवाले जेआरडी टाटा ने 1991 में रतन टाटा को अपना उत्तराधिकारी नियुक्त किया था.