Facebook का रंग नीला क्यों है? Mark Zuckerberg ग्रे कलर की टी-शर्ट में क्यों नजर आते हैं?

Prabhat khabar Digital

फेसबुक के सीइओ और फाउंडर मार्क जुकरबर्ग इन दिनों डेटा प्राइवेसी पर ऐपल के साथ मतभेद और बिटकॉइन को लेकर चर्चा में हैं. जुकरबर्ग आज अपना 37वां जन्मदिन मना रहे हैं. दुनिया के सबसे युवा अरबपति जुकरबर्ग के बारे में कई रोचक तथ्य हैं, जिन्हें आप शायद ही जानते होंगे-

फेसबुक का रंग नीला क्यों है? दरअसल, मार्क जुकरबर्ग कलर ब्लाइंडनेस से पीड़ित हैं. वह लाल और हरा रंग नहीं देख पाते, जबकि नीला रंग आसानी से देख लेते हैं. इसीलिए उन्होंने फेसबुक का रंग नीला रखा है.

बचपन में मार्क जुकरबर्ग के बर्थडे पर उनके पिता ने उन्हें एक बुक 'C++ फाॅर डम्मीज' गिफ्ट की थी. इस बुक को पढ़कर जुकरबर्ग ने कोडिंग की दुनिया में प्रवेश किया, और उनकी जिंदगी बदल गई.

मार्क ने 12 साल की उम्र में एक प्रॉडक्ट बनाया, नाम था- जुकनेट. यह उन्होंने अपने परिवार के लिए बनाया था. इससे जरिये उनके पिता परिवार में जल्दी से किसी को भी मैसेज भेज सकते थे.

मार्क जुकरबर्ग ज्यादातर ग्रे कलर की टीशर्ट में दिखते हैं. इसपर वो कहते हैं कि वे क्या पहनते हैं, इससे ज्यादा जरूरी ये है कि वो क्या करते हैं. जुकरबर्ग को सुबह-सुबह कपड़े ढूंढने में समय खराब करना पसंद नहीं है.

मार्क जुकरबर्ग को फेसबुक पर ब्लॉक नहीं किया जा सकता है. अगर आप ऐसा करना चाहते हैं तो- http://www.facebook.com/zuck ऐसा कर देखिए क्या होता है?

जुकरबर्ग की कई भाषाओं पर पकड़ है. उन्हें पुरानी भाषाओं जैसे लैटिन को सीखने में काफी दिलचस्पी है. उन्होंने अपनी चीनी गर्लफ्रेंड प्रिसिला चान को इंप्रेस करने के लिए 2010 में मंडारिन भाषा सीखी.

फेसबुक के पॉपुलर होने पर न्यूजकॉर्प, माईस्पेस, वायाकॉम, याहू, एनबीसी, माइक्रोसॉफ्ट, गूगल सहित कई कंपनियों ने जुकरबर्ग के सामने इसे खरीदने का ऑफर रखा, लेकिन उन्होंने सारे ऑफर्स ठुकरा दिये.