SIM खरीदने और पोर्ट करने की प्रक्रिया हुई आसान, इसमें आपका फायदा

Prabhat khabar Digital

भारत सरकार ने हाल ही में नया सिम खरीदने और पोर्ट करने की प्रक्रिया को आसान बनाते हुए सेल्फ-केवाईसी को मंजूरी दी है. अब केवाईसी के लिए दस्तावेज या कोई फॉर्म जमा कराने की जरूरत नहीं होगी.

सेल्फ-केवाईसी ऐप या पोर्टल पर आधारित होगी. ई-केवाईसी के लिए यूजर को एक रुपये का भुगतान करना होगा. अब यूजर्स को मोबाइल नंबर प्रीपेड से पोस्टपेड और पोस्टपेड से प्रीपेड कराने के लिए नयी केवाईसी की जरूरत नहीं होगी.

पहले इन सुविधाओं के लिए हर बार केवाईसी की जरूरत पड़ती थी और यूजर को दूरसंचार कंपनियों के स्टोर पर आईडी और एड्रेस प्रूफ से जुड़े दस्तावेज ले जाना होता था. नया सिम खरीदने के लिए कंपनी का मोबाइल ऐप डाउनलोड करना होगा.

यूजर को एक वैकल्पिक नंबर पंजीकरण कराने के लिए देना होगा. आप अपने रिश्तेदार का नंबर भी दे सकते हैं. उस नंबर पर ओटीपी के बाद यूजर को रजिस्टर कर दिया जाएगा. इसके बाद ओटीपी के जरिये लॉग-इन कर सेल्फ केवाईसी कर सकेंगे.