Tourist Places In Jharkhand : आपने मंदिरों का गांव देखा है, यहां ये है खास

Prabhat khabar Digital

झारखंड के दुमका जिले के शिकारीपाड़ा प्रखंड का मलूटी मंदिरों के गांव के नाम से प्रसिद्ध है.

कभी टेराकोटा स्थापत्य शैली के 108 मंदिर और इतने ही तालाब हुआ करते थे, लेकिन अब 72 मंदिर ही शेष बचे हैं.

पहले 108 मंदिर होने के कारण माला के मनकों के बराबर इन मंदिरों वाले गांव को झारखंड का गुप्तकाशी भी कहा जाता है.

मलूटी में टेराकोटा (पकाई गयी मिट्टी से बनायी गयी कलाकृति) की अद्भुत कारीगरी देखी जा सकती है.

झारखंड टूरिज्म

मलूटी में हर जगह करीब 20-20 मंदिरों का समूह है. हर समूह के मंदिरों की अपनी शैली है.

झारखंड टूरिज्म