Neeraj Chopra के 'कोच' को हटाया गया, वजह जानें

Prabhat khabar Digital

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने घोषणा की कि उसने भाला फेंक के राष्ट्रीय कोच उवे हॉन से नाता तोड़ दिया है क्योंकि वह उनके प्रदर्शन से खुश नहीं था और वह जल्द ही दो नये विदेशी कोच नियुक्त करेगा.

neeraj chopra javelin throw | instagram/sony tv

पूर्व विश्व रिकार्ड धारक 59 वर्षीय जर्मन हॉन का अनुबंध तोक्यो ओलंपिक तक ही था.

Neeraj Chopra | PTI

एएफआई अध्यक्ष आदिल सुमरिवाला ने कहा कि हम दो नये कोच की नियुक्ति करने जा रहे हैं तथा हम उवे हॉन को बदल रहे हैं क्योंकि हम उनके प्रदर्शन से खुश नहीं हैं. हम तूर (गोला फेंक के एथलीट ताजिंदरपाल सिंह तूर) के लिये भी विदेशी कोच देख रहे हैं. सुमरिवाला महासंघ की कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे.

Neeraj Chopra | instagram

इस बैठक में एएफआई की योजना समिति के अध्यक्ष ललित भनोट और उपाध्यक्ष अंजू बॉबी जार्ज ने भी हिस्सा लिया. हॉन को ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा और तोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले दो अन्य एथलीटों शिवपाल सिंह और अनु रानी जैसे खिलाड़ियों को प्रशिक्षित करने के लिये नवंबर 2017 में एक साल के लिये मुख्य कोच नियुक्त किया गया था.

Gold Medalist Neeraj Chopra | फोटो - ट्वीटर

चोपड़ा राष्ट्रमंडल और एशियाई खेल 2018 में उनकी निगरानी में खेले लेकिन इसके बाद जर्मनी के ही क्लॉस बार्टोनीज यह भूमिका निभाने लगे थे.

neeraj chopra | instagram

हॉन ने ओलंपिक से पहले यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया था कि भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) और एएफआई ने अनुबंध स्वीकार करने के लिये उन्हें ‘ब्लैकमेल' किया था. दोनों संस्थाओं ने हालांकि इस आरोप को खारिज कर दिया था.

Neeraj Chopra Coach | PTI

बैठक के दौरान कई मुद्दों पर चर्चा की गयी जिनमें एएफआई के जूनियर (जमीनी स्तर पर खिलाड़ियों का विकास) कार्यक्रम को नया स्वरूप देना, विश्व चैंपियनशिप और ओलंपिक जैसी शीर्ष अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं से पहले अभ्यास टूर्नामेंट का आयोजन और विशेषकर जूनियर के लिये कोचिंग कार्यक्रम में आमूलचूल बदलाव करना शामिल है.

Gold Medalist Neeraj Chopra | फोटो - ट्वीटर