Tokyo Paralympics 2020: सिल्वर मेडलिस्ट भाविना पटेल पर पैसों की बरसात, गुजरात सरकार देगी 3 करोड़ रुपये

Prabhat khabar Digital

Tokyo Paralympics 2020 : टोक्यो पैरालंपिक खेलों में रविवार को टेबल टेनिस स्पर्धा में भाविना पटेल (Bhavina Patel) ने रजत पदक पर कब्जा जमाया. गुजरात के मेहसाणा जिले के सुंधिया गांव की रहने वाली भाविना ने रविवार को अपने पहले पैरालंपिक खेलों में चीन की विश्व की नंबर एक खिलाड़ी यिंग झोउ से 0-3 से हारकर रजत पदक हासिल किया.

pti photo

भाविना पटेल दीपा मलिक (रियो पैरालंपिक, 2016) के बाद इन खेलों में पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय महिला खिलाड़ी बन गयीं हैं.

twitter

भाविना की जीत पर देश भर में जश्न का माहौल है. इधर सिल्वर मेडल जीतने के बाद उनके ऊपर पैसों की बरसात भी शुरू हो गयी है. गुजरात सरकार ने भाविना पटेल को मेडल जीतने पर तीन करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की है. जबकि भारतीय टेबल टेनिस महासंघ (टीटीएफआई) ने भी 31 लाख रुपये इनाम देने की घोषणा कर दिया है. टीटीएफआई अध्यक्ष और हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने इसके बारे में जानकारी दी.

twitter

जबकि गुजरात के मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जानकारी दी गयी कि मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने गुजरात के मेहसाणा जिले की बेटी भाविना पटेल को पैरालंपिक खेलों में टेबल टेनिस में शानदार उपलब्धियों से देश को गौरवान्वित करने के लिए बधाई दी है.

pti photo

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने अपने खेल कौशल से गुजरात और भारत को वैश्विक स्तर पर गौरवान्वित करने के लिए राज्य सरकार की ‘दिव्यांग खेल प्रतिभा प्रोत्साहन पुरस्कार योजना' के तहत भाविना को प्रोत्साहन के रूप में तीन करोड़ रुपये के पुरस्कार की घोषणा की है.

गौरतलब है कि बारह महीने की उम्र में पोलियो की चपेट में आने वाली भाविना दो बार की स्वर्ण पदक विजेता झाउ के खिलाफ 19 मिनट में 7-11, 5-11, 6-11 से हार गई. वह हालांकि भारत को मौजूदा पैरालंपिक खेलों का पहला पदक दिलाने में सफल रहीं.

pti photo